fbpx

सेना की वर्दी के कारण विवादों में गिरे दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी

भाजपा सांसद और दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है और इस वजह से वो चर्चा में बने हुए है। और एक बार फिर विवादों में भी घिर गए हैं।

दरअसल शनिवार के दिन भाजपा की तरफ से देशभर में ‘विजय संकल्प’ बाइक रैली निकाली गई थी। वही मनोज तिवारी भी दिल्ली में आयोजित ऐसी ही एक रैली का नेतृत्व करने पहुचे। और वी भी भारतीय सेना की वर्दी पहनकर पहुंच गए। और इसके बाद ही विवाद शुरू हो गया

जानकारी के अनुसार भारतीय सेना की वर्दी में मनोज तिवारी की तस्वीरें मीडिया में आई और इसके बाद विवाद शुरू हो गया। कांग्रेस समेत विपक्ष ने भाजपा पर हमला बोलते हुए उसपर सैनिकों के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया। वहीं,इस मामले पर मनोज तिवारी कहा कि ‘मैंने सिर्फ इसलिए सेना की वर्दी पहनी, क्योंकि मुझे अपनी सेना पर गर्व है। मैं भारतीय सेना में नहीं हूं, लेकिन मैंने देश की एकजुटता को लेकर अपनी भावनाएं व्यक्त कीं। इसे अपमान के नजरिए से क्यों देखा जाना चाहिए? अपनी सेना के लिए मेरे दिल में बेहद सम्मान है। ऐसे तो अगर कल को मैं एक नेहरू जैकेट पहन लूं तो क्या यह जवाहर लाल नेहरू का अपमान होगा?’

ये भी पढ़ें :-  घोड़ी चढ़े आयुष्मान खुराना, सोशल मीडिया पर फोटो हो रही वायरल

बता दे ये विवाद तब से शुरू हुआ जब मनोज तिवारी ने रैली की तस्वीरें खुद अपने ट्विटर पेज पर शेयर कीं। सोशल मीडिया में मनोज तिवारी की तस्वीरें वायरल होने के बाद विपक्ष ने उन्हें निशाने पर ले लिया।

15 total views, 2 views today