fbpx

शिवपाल की पार्टी नहीं लड़ेगी विधानसभा उपचुनाव, बताई ये वजह

केंद्रिय मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद यूपी में 13 विधानसभा सीट खाली हुई है। और अब जल्द ही इन सीटों पर जल्द उपचुनाव होने है।  और इन चुनाव को लेकर सभी पार्टी तैयारी में लगी हुई है। लेकिन इस उपचुनाव में पूर्व सपा सुप्रिमो मुलायम सिंह यादव के भाई यानी शिवपाल सिंह यादव अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया को दूर रखेंगे। उनकी पार्टी इस उपचुनाव में एक भी सीट पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी।

प्रसपा प्रमुख का कहना है कि, “उपचुनावों में लड़ने के बजाय हम प्रदेश में पार्टी संगठन को मजबूत करने पर केंद्रित करेंगे और 2022 विधानसभा चुनावों के लिए तैयारी करेंगे।” जिसके बाद उन्होंने कहा कि हमारा ध्यान आगामी विधानसभा चुनाव पर है, जिसके लिए हम प्रदेश में विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में छात्र संघ के चुनावों में हिस्सा लेंगे। जिससे हमारा निंव मजबूत हो सकें।

उन्होंने ये भी कहा कि प्रसपा युवाओं में अपनी पैठ बढ़ाना चाहती है, जिससे समाजवादी पार्टी (सपा) के वोट आधार में कमी आए।

ये भी पढ़ें :-  हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर से पवन जल्लाद भी दुखी, कहा- मैं फांसी देने को तैयार

बता दें कि अपने पार्टी का संरचनात्मक संगठन मजबूत करने के लिए शिवपाल लगातार प्रदेश के विभिन्न जिलों का दौरा कर रहे हैं। अपने इसी अभियान को लेकर प्रसपा प्रमुख शिवपाल ने आठ अगस्त को लखनऊ में योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ विशाल विरोध प्रदर्शन किया था। बता दें कि इसी मुद्दे को लेकर सपा ने भी अगले दिन विरोध प्रदर्शन किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.