fbpx

‘मालिक’ जी, बताएं मैं कब कश्मीर आ सकता हूं?’:- राहुल गाँधी

राहुल गाँधी ने मंगलवार को जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के जम्मू-कश्मीर की यात्रा करने के आमंत्रण को स्वीकार करते हुए कहा था, ‘आदरणीय राज्यपाल (जम्मू और कश्मीर) आपके निमंत्रण पर मैं और विपक्षी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की यात्रा जरूर करेगा। हमें विमान की जरुरत नहीं है। कृपया हमें यात्रा करने और लोगों से मिलने की स्वतंत्रता दें। इसके अलावा मुख्यधारा के नेताओं और वहां तैनात हमारे सैनिकों से मिलने की हमारी स्वतंत्रता सुनिश्चित करें।’

इसी कड़ी में आज राहुल गाँधी ने एक और ट्वीट कर जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल से पूछा है कि वो कब वहां आ सकते हैं। इसमें राहुल गाँधी ने राज्यपाल मलिक को ‘मालिक’ का संबोधन देते हुए कहा कि मैं जम्मू-कश्मीर आने के आपके निमंत्रण को स्वीकार करता हूं। मैं वहां आकर लोगों से मिलना चाहता हूं। आप बताएं, मैं कब आ सकता हूं?

जम्मू-कश्मीर में मौज़ूदा हालात को लेकर नेता कई दिनों से ट्वीटर पर एक दूसरे पर तंज़ कर रहे हैं। इससे पहले राहुल गाँधी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर टिप्पणी की थी जिसके जवाब में राज्यपाल मलिक ने कहा था कि वह कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लिए एक विमान भेजेंगे ताकि वह घाटी का दौरा कर यहां की ज़मीनी हक़ीक़त को जान लें।

ये भी पढ़ें :-  अभिनंदन वर्तमान को पकड़ने वाला पाकिस्तानी कमांडो मारा गया

आर्टिकल 370 हटने के बाद से जम्मू-कश्मीर में हालात नाज़ुक हैं। सुप्रीम कोर्ट में भी अटॉर्नी जनरल ने ये स्वीकारा है कि हालात सामान्य होने में अभी समय लगेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.