fbpx

73वां स्वतंत्रता दिवस : लालकिले से PM मोदी ने किया विपक्ष पर वार

आज भारत देश 73वां स्वतत्रंता दिवस मना रहा है। वही इस मौके पर भारत के  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले पर झंडा फहराया और इसके देश को संबोधित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले से अपने संबोधन में देश को स्वतत्रंता दिवस की बधाई दी। पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद से अभी तक जिन्होंने देश को विकास में योगदान दिया है, उनको भी वह नमन करते हैं। पीएम ने अपने संबोधन में जम्मू-कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि नई सरकार के गठन 10 हफ्ते के भीतर ही अनुच्छेद 370 (Article 370) और 35ए को हटाकर सरदार बल्लभ भाई पटेल के सपनों को साकार करने काम किया गया है।

पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 पर बोलते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दलों में कोई न कोई ऐसा व्यक्ति है, जो अनुच्छेद 370 के खिलाफ या तो प्रखर रूप से या फिर मुखर रूप से बोला। लेकिन जो लोग इसकी वकालत कर रहे हैं उनसे देश पूछ रहा है कि ये इतना जरूरी था, तो 70 साल से आर्टिकल 370 को स्थाई क्यों नहीं किया? क्यों इसे अस्थाई बना रखा था, क्योंकि आप में हिम्मत नहीं थी।

ये भी पढ़ें :-  'भईया, हमें बचा लीजिए' कहकर उन्नाव रेप पीड़िता ने ली आखिरी सांस

तीन तलाक (Triple Talaq) पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश की मुस्लिम बेटियां डर जिंदगी जी रही थीं। भले ही वो तीन तलाक का शिकार नहीं बनी हों, लेकिन उनके मन में डर रहता था। तीन तलाक को इस्लामिक देशों ने भी खत्म कर दिया था, तो हम क्यों नहीं कर सकते थे। अगर देश में दहेज, भ्रूण हत्या के खिलाफ कानून बना सकते हैं तो तीन तलाक के खिलाफ क्यों नहीं।

लालकिले से पीएम मोदी ने कहा कि हम सबका साथ-सबका विकास का मंत्र लेकर चले थे, लेकिन पांच साल में 5 साल में ही देशवासियों ने ‘सबका विश्वास’ के रंग से पूरे माहौल को रंग दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि अभी तक हर दल की सरकार ने देश की भलाई के लिए कुछ न कुछ किया है, लेकिन अभी भी 50 फीसदी लोगों के घरों में पानी उपलब्ध नहीं है। लोगों को पीने के पानी के लिए कई तरहों की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार अब हर घर में जल की ओर कदम बढ़ा रही है। पीएम ने कहा कि जल जीनव मिशन के लिए साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये के बजट का बदोंबस्त किया गया है। इसके तहत जल संचय, समुद्री पानी का इस्तेमाल, वेस्ट वाटर का इस्तेमाल, कम पानी में खेती के बारे में लोगों के बीच जागरूकता फैलाई जाएगी।

ये भी पढ़ें :-  अब DL और RC से लिंक कराना होगा मोबाइल नंबर

पीएम मोदी ने कहा कि किसानों को आज 90 हजार करोड़ रुपये सीधे उनके खातों में दिए जा रहे हैं। हम मजदूर भाइयों और किसानों को पेंशन देने के लिए भी कदम बढ़ा रहे हैं। हमने जलसंकट से निपटने के लिए अलग से मंत्रालय बनाया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.