fbpx

ऑटो-टैक्सी में लगा QR कोड, ऐसे करेगा लोगों को मदद

शुक्रवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर क्यूआर कोड स्कीम को लॉन्च किया। बता दे ये पहल मेट्रो स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों और एयरपोर्ट जैसी जगहों से आने-जाने वाले यात्रियों और  महिलाओं के सुरक्षित सफर को सुनिश्चित करने लिए दिल्ली पुलिस ने एक नई पहल शुरू की है।

इसके तहत ऑटो-टैक्सी पर क्यूआर कोड लगाए जाएंगे, जिन्हें दिल्ली पुलिस के हिम्मत प्लस ऐप के जरिए स्कैन करके आपको तुरंत ऑटो-टैक्सी चालक के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी और आप यह पता कर सकेंगे कि सही आदमी गाड़ी चला रहा है कि नहीं। साथ ही अपनी यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए आप इस ऐप के जरिए अपनी जर्नी की प्रोग्रेस को भी सीधे दिल्ली पुलिस के साथ शेयर कर सकते हैं।

पुलिस कमिश्नर ने उम्मीद जताई कि क्यूआर कोड सिस्टम लागू होने से हिम्मत प्लस ऐप के इस्तेमाल को भी और बढ़ावा मिलेगा। एलजी ने इस बात पर जोर दिया कि ज्यादा से ज्यादा ऑटो-टैक्सी चालकों का डेटा लेकर उन्हें क्यूआर कोड दिए जाएं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अभी करीब 3300 ऑटो पर क्यूआर कोड लगाए जा रहे हैं। जल्द ही इनकी तादाद बढ़ाने के लिए अभियान चलाए जाएंगे। इसके अलावा 3 हजार टैक्सियों पर भी क्यूआर कोड लगाए जाएंगे। ऑटो-टैक्सी में ड्राइविंग सीट के पीछे ये क्यूआर कोड लगे होंगे, जिन्हें यात्री आसानी से स्कैन करके अपनी यात्रा को सुरक्षित बना सकेंगे।

ये भी पढ़ें :-  इराक:- विरोध प्रदर्शन में 319 लोगों की मौत, 15 हजार से ज्यादा जख्मी

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.