fbpx

ऑटो सेक्टर की ‘गाड़ी पंक्चर’, 21 सालों में बिक्री में रिकॉर्ड गिरावट

Society of Indian Automobile Manufacturers (SIAM) ने सोमवार को बताया कि ऑटोमोबाइल सेक्टर ऐतिहासिक मंदी से गुज़र रहा है। 10 महीनों से लगातार गिरावट का दौर जारी है जो अगस्त में भी दिखाई दिया। अगस्त महीने में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। जिसमें यात्री वाहनों और दोपहिया वाहनों सहित सभी सेगमेंट में गिरावट देखी गई है।

SIAM के आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में पैसेंजर व्हीकल (PV ) की बिक्री एक साल पहले इसी महीने की तुलना में 31.57 फीसदी घटकर 1,96,524 वाहन रह गई है। पिछले साल पहले अगस्त में 2,87,198 वाहनों की बिक्री हुई थी। इसी तरह घरेलू बाजार में कारों की बिक्री 41.09 फीसदी घट गयी है  इस बार अगस्त में  सिर्फ 1,15,957 कारें ही बिकीं जबकि एक साल पहले अगस्त में 1,96,847 कारें बिकी थीं।

अगस्त में Commercial Vehicles की बिक्री में भी काफी गिरावट दर्ज़ की गयी। अगस्त महीने में 38.71 फीसदी घटकर सिर्फ 51,897 वाहन ही बिके।

ये भी पढ़ें :-  अयोध्या केस : तय हुई सुनवाई की डेडलाइन, इस दिन आयेगा फैसला

दोपहिया वाहनों की बिक्री में भी कमी आयी है। इस बार दोपहिया वाहनों की बिक्री 22.24 फीसदी घटकर 15,14,196 यूनिट रह गई है जबकि पिछले साल अगस्त में देश में 19,47,304 वाहनों की बिक्री हुई थी। इसमें मोटरसाइकिलों की बिक्री 22.33 फीसदी घटकर 9,37,486 मोटरसाइकिल रह गई है जबकि एक साल पहले इसी महीने में 12,07,005 मोटरसाइकिलें बिकी थीं।

अगर सभी तरह के वाहनों की बात करें तो अगस्त 2019 में कुल वाहन बिक्री 23.55 प्रतिशत घटकर 18,21,490 वाहन रह गई जबकि एक साल पहले इसी महीने में कुल 23,82,436 वाहनों की बिक्री हुई थी।

पिछले हफ्ते परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने ऑटो कंपनियों को भरोसा दिया था कि पेट्रोल और डीजल व्हीकल को बैन करने का कोई प्लान नहीं है। उन्होंने कहा था कि ऑटो सेक्टर में मंदी वैश्विक कारणों से है। सरकार का कहना है कि ये मंदी बस कुछ समय के लिए है। इंडस्ट्री के लिए सकारात्मक कदम उठाये जा रहे हैं, जल्द ही अर्थव्यवस्था रफ़्तार पकड़ेगी। लेकिन इन ‘सरकारी बयानों’ के विपरीत आंकड़े गिरवट के नये-नये रिकॉर्ड बना रहे हैं।

ये भी पढ़ें :-  हिमाचल में जल्द बिगड़ने वाला है मौसम, रहें सतर्क

कमजोर मांग के चलते देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी की अगस्त बिक्री में 36 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। मारुति सुजुकी ने पिछले हफ्ते गुरुग्राम और मानेसर प्लांट को दो दिन के लिए बंद रखा था। ऐसा मारुति ने पहली बार किया है। इसके अलावा जिन गाड़ियों की लम्बी बुकिंग रहती थी और खरीदारों को लम्बा इंतज़ार करना पड़ता था, उन गाड़ियों पर अब बड़ा डिस्काउंट मिल रहा है। मगर इस सब के बावजूद भी बिक्री में गिरावट ही आ रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.