Notice: Trying to get property of non-object in /var/www/html/www.khabarinfo.com/public_html/wp-content/plugins/wordpress-seo/frontend/schema/class-schema-person.php on line 152

Notice: Trying to get property of non-object in /var/www/html/www.khabarinfo.com/public_html/wp-content/plugins/wordpress-seo/frontend/schema/class-schema-person.php on line 230

Notice: Trying to get property of non-object in /var/www/html/www.khabarinfo.com/public_html/wp-content/plugins/wordpress-seo/frontend/schema/class-schema-person.php on line 236

चीन बॉर्डर पर शुरू हुई जंग की तैयारी 5,000 से अधिक जवान…

सेना और वायुसेना को लेकर एक बड़ी खबर समाने आ रही है। खबर है कि   अक्टूबर में चीन बॉर्डर पर सेना और वायुसेना बड़ा युद्धाभ्यास करेंगी।

इस युद्धाभ्यास में भारतीय सेना की एकमात्र माउंटेन स्ट्राइक कोर (Mountain Strike Corps) के 5,000 से अधिक जवान हिस्‍सा लेंगे। अरुणाचल प्रदेश में ये जवान वायु सेना के साथ युद्धाभ्यास करेंगे। बताया जाता है कि चीन सीमा पर यह देश का पहला युद्धाभ्‍यास होगा। इस युद्धाभ्‍यास की स्थितियां बिल्‍कुल युद्ध के जैसी होंगी। नव निर्मित 17 माउंटेन स्ट्राइक कोर पिछले पांच से छह महीनों से पूर्वी कमान (Eastern Command) के तहत इसकी तैयारियां कर रही है।

वायुसेना पश्चिम बंगाल के बागडोगरा से सेना के जवानों को एयर लिफ्ट करके युद्धाभ्‍यास के स्‍थान पर ले जाएगी। 17 माउंटेन स्ट्राइक कोर के 2,500 से अधिक जवान 59 वीं माउंटेन डिविजन के होंगे।

इस युद्धाभ्‍यास में लाइट हॉवित्जर तोपें, युद्धक टैंक और पैदल सेना के लड़ाकू वाहनों सहित बख्तरबंद रेजिमेंट शामिल होंगे। इस युद्धाभ्यास का मकसद चीन के साथ पर्वतीय क्षेत्र में युद्ध के दौरान 17 माउंटेन स्ट्राइक कोर को और अधिक प्रभावी बनाना है। युद्धाभ्यास को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत की देखरेख में इंटीग्रेटेड बेटल ग्रुप्स (Integrated Battle Groups, IBGs) बनाए जाएंगे। 

131 total views, 4 views today

ये भी पढ़ें :-  छेड़छाड़ से बचने की कोशिश में बुलंदशहर की एक छात्रा की सड़क हादसे में मौत, अमेरिका में कर रही थी पढ़ाई

Leave a Reply

Your email address will not be published.