fbpx

Full Harvest Moon: आज बनेगा दुर्लभ संयोग, अनोखा होगा चांद का नज़ारा

आज यानी 13 सितंबर को 13 साल बाद ऐसा संयोग बन रहा है जब ‘दुर्लभ पूर्ण चंद्रमा’ दिखाई देखा। इसे फुल हार्वेस्‍ट मून (Full Harvest Moon) भी कहते हैं। अमूमन चंद्रमा सूर्यास्‍त होने के 50 मिनट बाद उगता है लेकिन शुक्रवार को सूर्य के अस्‍त होने के ठीक पांच मिनट बाद ही चंद्रमा पूर्व में दिखाई देने लगेगा। अमेरिका के वाशिंगटन में चंद्रमा शाम को 7:31 बजे दिखाई देगा। नासा के वैज्ञानिकों का कहना है कि लोग इसे देख सकते हैं लेकिन किवदंतियों में इसे ‘भयावह’ माना गया है। आइये बतातें हैं फुल हार्वेस्‍ट मून (Full Harvest Moon) के बारे में वह सब कुछ जिसे आप जरूर जानना चाहेंगे…

इस पूर्ण चंद्रमा को फुल हार्वेस्‍ट मून (Full Harvest Moon) नाम नेटिव अमेरिकियों ने दिया था। दरअसल, यह चंद्रमा साधारण चंद्र उदय की अपेक्षा जल्‍द चांदनी बिखेर देता है। चूंकि, बीते जमाने में यह चंद्रमा उनकी गर्मियों में उगाई जाने वाली फसलों की कटाई और मड़ाई में मददगार होता था इसलिए इसे पश्चिम में फुल हार्वेस्‍ट मून नाम दिया गया। इसे कॉर्न मून (corn moon) के नाम से भी जानते हैं क्‍योंकि यह समय ऐसा होता है जब किसान अपने मक्‍के की फसल की कटाई करते हैं।

ये भी पढ़ें :-  इस शख्स और सांप का गज़ब का याराना, साथ में करते हैं...

वहीं, यह अन्‍य फुल मून की अपेक्षा काफी छोटा दिखाई देता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह अपनी कक्षा के दूरस्‍थ बिंदु पर मौजूद होगा। अमूमन माइक्रो मून सुपर मून की तुलना में 14 फीसद छोटा और 30 फीसद कम चमकीला दिखाई देता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह धरती से 251,655 मील की दूरी पर होता है। लेकिन फुल हार्वेस्‍ट मून माइक्रो मून से भी दूर (816 मील) मौजूद होगा। इससे उलट सुपर मून माइक्रो मून से 2,039 मील धरती के नजदीक होता है।

सितंबर में दिखाई देने वाले इस ‘दुर्लभ पूर्ण चंद्रमा’ को शरत चंद्रमा भी कहते हैं। इससे पहले जनवरी 2006 में शुक्रवार को फुल मून (Full Moon) दिखाई दिया था। अब 13 साल बाद फिर मई 2033 में ऐसा संयोग बनेगा। हालांकि, फुल हार्वेस्‍ट मून (Full Harvest Moon) के बारे में अनुमान है कि दोबारा 13 अगस्‍त 2049 को यह दुर्लभ संयोग बनेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.