fbpx

डिजिलॉकर की मदद से नहीं कटेगा आपका चालन

देश में जब से देशभर में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है। तब से सभी लोग भर भरकम चालान काटने का डर सता रहा है लेकिन अब आप अगर गलती से अपने गाड़ी के डाक्यूमेंट्स लाना भूल गये है। तो आप डिजिलॉकर कि मदद से आसानी से बच सकते है।

डिजिलॉकर क्लाउड स्टोरेज पर आधारित एक वर्चुअल लॉकर है। एक बार इस लॉकर में अपने दस्तावेज अपलोड करने के बाद उसकी मूल प्रति यानी हार्ड कॉपी को साथ रखने की जरूरत नहीं होती है।

इसके लिए आपको DLS अकाउंट बनाना पड़ेगा। आप digitallocker.gov.in पर जाकर अपने ईमेल आईडी, पासवर्ड या आधार की मदद से अकाउंट बना सकते हैं। आईटी एक्ट-2000 के तहत डिजिलॉकर या एम परिवहन ऐप पर उपलब्ध दस्तावेजों की ई-कॉपी को वैध मानने का प्रावधान किया गया है। वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों ऐप्स लॉन्च किए थे।

27 total views, 4 views today

ये भी पढ़ें :-  मोदी सरकार को एक और झटका, खुदरा महंगाई के बाद थोक महंगाई में भी बढ़त दर्ज

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.