fbpx

BJP नेताओं में लगी फ़ज़ीहत कराने की होड़

ऐसा लग रहा है कि BJP नेताओं में एक के बाद एक ऐसे बयान देने की होड़ लगी हुई है जो उन्हें और साथ ही साथ पार्टी को भी हंसी का पात्र बना रही है। निर्मला सीतारमण की बयान की फ़ज़ीहत के बाद अभी BJP उनकी सफाई में मामले को सँभालने की कोशिश कर रहे थे कि पीयूष गोयल ने ऐसा बोल दिया जो उनकी मजाक की वजह बन गया।

गोयल बता रहे थे कि भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था कैसे बनेगा। अपने बयान में उन्होंने कहा कि “आप उस हिसाब-किताब में मत पड़िए जो टीवी पर देखते हैं कि 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था के लिए देश को 12 प्रतिशत की रफ़्तार से बढ़ना होगा। आज यह 6 प्रतिशत की रफ़्तार से बढ़ रही है। ऐसे हिसाब किताब में मत पढिये। ऐसे गणित से आइंस्टाइन को गुरुत्वाकर्षण की खोज में मदद नहीं मिली। अगर आप बस बने बनाए फ़ार्मूलों और अतीत के ज्ञान से आगे बढ़ते तो मुझे नहीं लगता कि दुनिया में इतनी सारी खोज होती।”

ये भी पढ़ें :-  जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद पहली बार होंगे पंचायत चुनाव

यहां उनसे चूक ये हो गयी कि उन्होंने जहाँ गुरुत्वाकर्षण के लिए आइंस्टाइन का ज़िक्र किया वो दरअसल न्यूटन की खोज था। उनके मुँह से ये बात निकलने की देर थी कि विपक्ष सहित सोशल मीडिया पर सक्रिय लोगों ने इसका मज़ा लेने में कोई कसर नहीं छोड़ी। प्रियंका गाँधी ने ट्वीट किया कि ” सही कैच पकड़ने के लिए अंत तक गेंद पर नजर और खेल की सच्ची भावना होनी जरुरी है। वरना आप सारा दोष gravity, गणित, ओला-उबर और इधर-उधर की बातों पर मढ़ते रहेंगे। भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जनहित में जारी।”

हालांकि, पीयूष गोयल ने एक कार्यक्रम के दौरान सार्वजनिक रूप से इस गलती के माफी मांग ली और फिर आइंस्टीन की ही एक पंक्ति को दोहराते हुए कहा, ‘जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं की, उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की।’
मगर एक कहावत है न कि ज़ुबान से निकली बात और कमान से निकला तीर कभी वापस नहीं आते।

8 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.