fbpx

ऑटो वालो ने बताया इस वजह से पुलिस वाले उन पर नहीं करते कार्रवाई

सड़क हादसों में कमी लाने के लिए केंद्र सरकार ने यातायात नियमों को कड़ा कर 10 गुना जुर्माने का प्रावधान कर दिया है। लोगों की छोटी-छोटी कमियों पर भी मोटा चालान काट रहे हैं। लेकिन नोएडा शहर में चल रहे ऑटो सारे नियम कायदों की धज्जियां उड़ा रहे हैं, और इसके बावजूद ऑटो चालकों पर पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती है।

कुछ दिन पूर्व जरूर पुलिस-प्रशासन की तरफ से ऐसे ऑटो चालकों के खिलाफ अभियान चलाया गया था, जो अब पूरी तरह बंद हो चुका है। ऐसे में ऑटो वाले बिना किसी टेंशन के सवारियों की जान जोखिम में डालकर ऑटो दौड़ा रहे हैं। शहर के कई इलाकों में ऑटो चालक तय संख्या से अधिक सवारियां बिठाकर चल रहे हैं। ऐसे में ये कभी भी दुर्घटनाग्रस्त हो सकते हैं, जिससे सवारियों की जान को खतरा पैदा हो सकता है।

इन ऑटो चालकों को ट्रैफिक पुलिस और ARTO की कार्रवाई का कोई डर नहीं होता है। पुलिस और ट्रैफिक पुलिस के जवान इन्हें ऐसा करते हुए देखते हैं लेकिन कोई कार्रवाई नहीं करते।

ये भी पढ़ें :-  नोएडा के मेट्रो हॉस्पिटल में भर्ती हैं प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट

वहीं जब इस बारे में ऑटो वालों से पूछा गया था। तो एक ऑटो चालक ने कहा कि ज्यादा सवारी बिठाने के एवज में उन्हें पुलिसवालों को ‘हफ्ता’ देना होता है। अगर परमिट के हिसाब से सवारी बिठाएंगे तो उन्हें कोई फायदा नहीं होता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.