fbpx

केंद्र सरकार ने गांधी परिवार की सुरक्षा में किया बड़ा बदलाव

केंद्र सरकार ने गांधी परिवारकी को सुरक्षा देने वाले स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप (SPG) को नए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं।

केंद्र की ओर से गांधी परिवार के किसी भी सदस्‍य के विदेश यात्रा (Foreign Visit) पर जाने के दौरान पूरे समय उनके लिए एसपीजी सुरक्षा अनिवार्य (Mandatory) कर दी गई है। साथ ही ये भी कहा है कि, अगर वे इसे स्‍वीकार नहीं करते हैं तो सुरक्षा कारणों के मद्देनजर उनकी विदेश यात्रा में कटौती भी की जा सकती है। बता दें कि अब तक एसपीजी सुरक्षाकर्मी पहले विदेशी डेस्टिनेशन (First Location) तक ही गांधी परिवार के साथ जाते थे। इसके बाद गांधी परिवार के सदस्‍य अपनी निजता का हवाला देकर सभी सुरक्षाकर्मियों को वापस भारत लौटा देते थे। इससे आगे की विदेश यात्रा के दौरान उनके लिए जोखिम बढ़ जाता था।

केंद्र के नए दिशानिर्देशों के मुताबिक, अब अगर गांधी परिवार का कोई सदस्‍य लंदन दौरे पर जाता है तो एसपीजी के सुरक्षाकर्मी दिल्‍ली लौटने तक उनके साथ साए की तरह रहेंगे। अगर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के परिवार का कोई सदस्‍य लंदन से यूरोप या अमेरिका जाना चाहता है तो संबंधित देश में भारतीय दूतावास स्‍थानीय पुलिस के साथ उन्‍हें एसपीजी सुरक्षा के अलावा भी सुरक्षा मुहैया कराने के लिए बात करेगा।

ये भी पढ़ें :-  'Owaisi के बाप-दादाओं ने अपनी लैला के लिए Taj Mahal बनवाया'

बता दें कि पूर्व पीएम इंदिरा गांधी की उनके ही सुरक्षाकर्मियों ने हत्‍या कर दी थी। इसके बाद 1985 में देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए अलग से खास सुरक्षा दस्‍ता बनाया था। यह सुरक्षा दस्‍ता ही एसपीजी कहलाता है।

केंद्रीय सचिवालय की ओर से एसपीजी को जारी नए दिशानिर्देशों के तहत गांधी परिवार को अब अपनी यात्राओं के हर मिनट की जानकारी मुहैया करानी होगी। गांधी परिवार से उनकी पिछली कुछ यात्राओं का ब्‍योरा भी मांगा गया है। नए दिशानिर्देश जहां गांधी परिवार को पूरी दुनिया में सुरक्षा मुहैया कराएंगे, वहीं केंद्र को उनके हर कदम पर नजर रखने में भी मददगार साबित होंगे। अब तक सुरक्षा प्राप्‍त किसी भी व्‍यक्ति के किसी देश में पहुंचने पर भारतीय दूतावास या उच्‍चायोग की जिम्‍मेदारी होती थी कि वे स्‍थानीय पुलिस के सहयोग से उन्‍हें पूरी सुरक्षा मुहैया कराएं। ये व्‍यवस्‍था अब भी जारी रहेगी, लेकिन अब स्‍थानीय पुलिस के साथ ही एसपीजी भी उन्‍हें सुरक्षा मुहैया कराएगी।

ये भी पढ़ें :-  नीतीश कुमार का बड़ा बयान अमित शाह के कहने पर प्रशांत किशोर को किया था शामिल, पार्टी की नीतियों का मानना पड़ेगा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.