fbpx

अगर चाहिए अपने पापों से मुक्ति तो जरूर रखें ये व्रत

आज यानी 09 अक्टूबर को पापकुंशी एकादशी है। कहा जाता है कि ये एकादशी पाप को दूर करने के लिए होती है। इस दिन व्रत का ख़ूब महत्व है। भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। बात करें व्रत कथा की तो एक समय में विंध्य पर्वत पर क्रोधन नामक एक बहेलिया रहता था। वह बहुत क्रूर था। उससे बहुत पाप हुए थे। जब उसकी मृत्यु का समय नजदीक आया तो वह महर्षि अंगिरा के आश्रम में गया। उसने महर्षि से प्रार्थना की कि मुझसे जीवन में बहुत पाप हुए हैं। हमेशा लोगों के लिए बुरा किया है। इसलिए अब कोई ऐसा उपाय है जिससे मैं अपने सारे पाप धो सकूं और मोक्ष को प्राप्त करूं। उसकी प्रार्थना पर हर्षि अंगिरा ने उसे पापांकुशा एकादशी का व्रत करके को कहा। महर्षि अंगिरा के कहे अनुसार उस बहेलिए ने पूर्ण श्रद्धा के साथ यह व्रत किया और किए गए सारे पापों से छुटकारा पा लिया। इसलिए माना जाता है कि इस दिन व्रत रखने से सारे पाप धुल जाते हैं।

ये भी पढ़ें :-  आमंत्रण में आम नागरिक की तरह आएंगे मनमोहन सिंह:- पाक मंत्री

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.