fbpx

5 फीसदी से भी नीचे रहेगी GDP वृद्धि दर : SBI

भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर (Growth Rate) 5 फीसदी से भी नीचे आ सकती है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की एक रिपोर्ट में यह चेतावनी दी गई है कि जुलाई से सितंबर की तिमाही में, कमजोर निवेश, खपत में कमी और कई सेक्टर के खराब प्रदर्शन की वजह से GDP ग्रोथ की रफ्तार और सुस्त पड़ी है।

जुलाई से सितंबर की तिमाही में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में बढ़त की दर 5 फीसदी से भी नीचे आ सकती है। अगर पूरे वित्त वर्ष 2019-20 की बात करें तो GDP बढ़त दर घटकर 6 फीसदी से नीचे आ सकती है।

इसके पहले भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा था कि इस वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ 6.1 फीसदी हो सकती है। अप्रैल से जून की तिमाही में भारत की जीडीपी में बढ़त 5.8 फीसदी हुई थी। उपभोग(खपत) में कमी, कमजोर निवेश और अनेक सेक्टर के खराब प्रदर्शन की वजह से जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार और सुस्त पड़ी है।

ये भी पढ़ें :-  यूपी: पराली जलाने पर 10 जिलों के अधिकारी जमा करेंगे रिपोर्ट

एसबीआई इकोरैप (SBI ECOWRAP) रिपोर्ट में कहा गया है, ‘वित्त वर्ष 20 की दूसरी तिमाही (जुलाई से सितंबर) में ग्रोथ ने रफ्तार पकड़ने के बारे में हमें अब कम उम्मीद है। सितंबर में कुल 26 संकेतकों(indicators) में से सिर्फ 5 संकेतकों में बढ़त देखी जा रही है। इससे यह साफ़ हो जाता है कि अभी भी अर्थव्यवस्था में बड़े स्तर पर कमी बनी हुई है और इसे सुधरने में समय लग सकता है। प्रमुख संकेतकों को देखने से अब ऐसा लग रहा है कि दूसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 5 फीसदी से कम होगी।’

रिपोर्ट में इस ओर भी इशारा किया गया है कि सरकारी खर्च बढ़ने और कंपनियों की बिक्री बढ़ने की वजह से तीसरी तिमाही से जीडीपी ग्रोथ में थोड़ा सुधार हो सकता है।

हालांकि ये पहली दफा नहीं है कि जब किसी संस्था ने अर्थव्यवस्था में मंदी और मांग की कमी के संकेत दिये हैं। इससे पहले भी कई अर्थशास्त्री और सर्वे यही बात दोहरा चुके हैं कि सितंबर तिमाही की जीडीपी ग्रोथ में काफी गिरावट आएगी।

ये भी पढ़ें :-  सियाचिन में बर्फीले तूफान का कहर, 4 जवान शहीद

मूडीज़ इनवेस्टर्स सर्विस ने भी जीडीपी बढ़त के अपने अनुमान को 6.2 फीसदी से घटाकर 5.8 फीसदी कर दिया है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने भी साल 2019 के लिए जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को घटाकर 6.1 फीसदी कर दिया है इसके अलावा रिजर्व बैंक ने भी इस वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को 6.9 से घटाकर 6.1 फीसदी कर दिया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.