fbpx

Oppo Reno 3 सीरीज़ से जल्द उठेगा पर्दा

ओप्पो ने 20 नवंबर को चीन में आयोजित इवेंट के दौरान अपने नए कस्टम स्किन कलरओएस 7 से पर्दा उठा दिया है। भारत में ColorOS 7 को 26 नवंबर को लॉन्च किया जाएगा। Oppo ने इस बात की घोषणा कर दी है कि कलरओएस 7 आउट ऑफ द बॉक्स पर चलने वाला पहला फोन ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ का होगा। पहली बार Oppo Reno 3 Series के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी सामने आई है। इसके अलावा ओप्पो ने इस बात का भी खुलासा कर दिया है कि ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ डुअल-मोड 5जी सपोर्ट के साथ दिसंबर में लॉन्च किया जाएगा।

Oppo Reno 3 Launch

चीन की माइक्रोब्लॉगिंग साइट वीबो पर आधिकारिक वीवो अकाउंट से एक पोस्ट को साझा किया गया था। पोस्ट के जरिए इस बात की घोषणा की गई है कि ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ को डुअल-मोड 5जी सपोर्ट के साथ लॉन्च किया जाएगा, इसका मतलब यह NSA और SA दोनों ही स्टैंडर्ड के साथ कंपेटिबल होगा। इसके अलावा इस बात की भी जानकारी मिली है कि ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ के अंतर्गत उतारे जाने वाले स्मार्टफोन को सबसे पहले कलरओएस 7 के साथ उतारा जाएगा।

ये भी पढ़ें :-  अनुच्छेद 370 हटाने पर सुनवाई, याचिकाकर्ताओं की दलील, राष्ट्रपति का आदेश असंवैधानिक

अभी यह बात स्पष्ट नहीं है कि कलरओएस 7 पर चलने वाले ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ के फोन एंड्रॉयड 10 (Android 10) पर आधारित होंगे या नहीं। Oppo ब्रांड के इस आगामी सीरीज़ को अगले महीने चीनी मार्केट में लॉन्च किया जाएगा। ओप्पो ने इस बात का खुलासा फिलहाल नहीं किया है कि आखिर ओप्पो रेनो 3 सीरीज़ के भारतीय मार्केट में कब तक लाया जाएगा।

ओप्पो रेनो 3 के पिछले हिस्से में चार रियर कैमरे दिए जा सकते हैं, प्राइमरी कैमरा सेंसर 60 मेगापिक्सल, 8 मेगापिक्सल का कैमरा सेंसर, 13 मेगापिक्सल का कैमरा सेंसर और 2 मेगापिक्सल का कैमरा सेंसर दिया जा सकता है। सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए 32 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा हो सकता है। ओप्पो रेनो 3 में 6.5 इंच का फुल-एचडी+ (1080×2400 पिक्सल) एमोलेड डिस्प्ले है। इसका रिफ्रेश रेट 90 हर्ट्ज़ है।

उम्मीद है कि फोन में स्नैपड्रैगन 735 प्रोसेसर के साथ 8 जीबी रैम वेरिएंट को उतारा जा सकता है। फोन में फोटो, वीडियो और अन्य चीजों को सेव करने के लिए 256 जीबी तक स्टोरेज हो सकती है। जैसा कि हमने आपको बताया कि इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि स्मार्टफोन डुअल-मोड 5जी सपोर्ट से लैस होगा।

ये भी पढ़ें :-  हैदराबाद एनकाउंटर : क्या न्यायिक प्रणाली से उठ रहा है भरोसा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.