fbpx

रिलायंस इंडस्ट्रीज बनी 10 लाख करोड़ के बाजार पूंजीकरण वाली देश की पहली कंपनी

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने आज एक और रिकॉर्ड हासिल किया है। गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण (market capitalisation ) 10 लाख करोड़ के पार चला गया है। इस मुकाम को हासिल करने वाली यह भारत की पहली कंपनी बन गई है। पिछले हफ्ते ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाजार पूंजीकरण ने 9.50 लाख करोड़ रुपये के स्तर को पार किया था।

पिछले महज़ 33 महीनों में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण छह लाख करोड़ रुपये बढ़ा है।

समयबाजार पूंजीकरण (रुपये में)
फरवरी 2017चार लाख करोड़
जुलाई 2017पांच लाख करोड़
अक्तूबर 2017छह लाख करोड़
जुलाई 2018सात लाख करोड़
अगस्त 2018आठ लाख करोड़
अक्तूबर 2019नौ लाख करोड़
नवंबर 201910 लाख करोड़

कंपनी के शेयरों में तेज़ी जारी है। इस तेज़ी के कई कारण हैं एक तो ये कि रिलायंस की टेलीकॉम यूनिट जियो ने जल्द ही टैरिफ बढ़ाने का ऐलान किया है। इससे पहले कुछ दूसरे टेलीकॉम कंपनियों ने भी सर्विस महंगी करने की घोषणा की थी।

ये भी पढ़ें :-  राष्ट्रीय राजधानी परिवहन (NCRTC) ने जूनियर इंजीनियर के 40 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन किया जारी, तीन साल का अनुभव जरूरी

जियो का यूजर बेस 35 करोड़ यूजर का है। सितंबर 2019 तिमाही में इसका स्टैंडअलोन प्रॉफिट 990 करोड़ रुपए का था। इस तिमाही में कंपनी का कुल रेवेन्यू 12,354 करोड़ रुपए रहा।

पिछले महीने कंपनी ने ऐलान किया था कि वह अपनी डिजिटल सर्विसेज बिजनेस के लिए एक अलग कंपनी बनाएगी। इसमें टेलीकॉम बिजनेस भी शामिल है।

बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच के मुताबिक, RIL आने वाले दो सालों में 200 अरब डॉलर (करीब 14.5 लाख करोड़) के मार्केट कैप को छूने वाली पहली भारतीय कंपनी बन सकती है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.