fbpx

योगी जी-कैसे मरी अनुष्का

महिला समाज का एक ऐसा हिस्सा है जिसके द्वारा ही सरहदों पर नौजवान तैनात है ओर देश की रक्षा कर रहे है लेकिन उस महिला की कोई रक्षा नहीं कर रहा| ये हमारा समाज है जहाँ बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के नारे तो बहुत लगाए जाते है लेकिन उन नारों पर कोई अमल नहीं करता| कभी कभी तो हर वो गर्भवती महिला सोचती होगी की उसकी कोख सुनी ही रहे क्योंकि अगर बेटी हुई तो बेवजह हवस का शिकार हो जाएगी और बेटा हुआ तो किसी और के घर की इज्जत को नीलाम कर देगा|

कन्याभ्रूण हत्या के लिए कई आन्दोलन किये जाते है| लेकिन कोई ये नहीं सोचता कि कन्या के जन्म लेने के बाद वो कब किसका निवाला बन जाए| कहने को हमारे पास सरकार है पर उस सरकार का क्या फायदा जो अपने ही देश की बेटियों की सुरक्षा नहीं कर पाते| सरकार दुनिया का दौरा कर अन्य देशों की नीति अपने देश में लाने की कोशिश करती है तो वहीँ सरकार उन देशों में रेप न होने वाले कानूनों को क्यों नहीं अपनाती?

ये भी पढ़ें :-  अनुच्छेद 370 हटाने पर सुनवाई, याचिकाकर्ताओं की दलील, राष्ट्रपति का आदेश असंवैधानिक

शायद सरकार ऐसी कोई नीति अपनाती जिससे महिला सुरक्षित होती…जिससे आज मैनपुरी की अनुष्का हमारे बीच में होती| जिसकी मौत कैसी हुई इसकी कोई जानकारी नहीं है| हमारी सरकार महिला को सुरक्षा तो तब दे पाए जब वह अपनी कानून नीति पर काम कर पाए|

जानिए अनुष्का की कहानी

मैनपुरी में भोगांव थाना क्षेत्र स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय की 11वीं की छात्रा की 16 सितंबर 2019 को हॉस्टल परिसर में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। छात्रा की मौत के बाद से उसके परिवार वाले  अनुष्का की मौत की सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहे थे। इस मांग को लेकर वे अनशन पर भी बैठे थे। जिला प्रशासन की संस्तुति पर शासन की तरफ से मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश केंद्र सरकार को भेजे जाने के बाद अनुष्का के परिवार वालों ने अपना अनशन खत्म किया था। हालांकि सीबीआई ने अभी तक इस मामले की जांच अपने हाथ में नहीं ली है।

ये भी पढ़ें :-  आपसी मतभेद के चलते फायरिंग, 2 जवानों की मौत

तो वहीँ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनुष्का की मृत्यु के मामले में पुलिस की ढील को गम्भीरता से लिया है। उन्होंने जिले के एसपी अजय शंकर राय को डीजीपी मुख्यालय से हटाकर उनके विरुद्ध विभागीय कार्यवाही करने का आदेश दिया हैं। तो वहीं शामली के एसपी अजय कुमार को मैनपुरी का नया एसपी नियुक्त किया गया है।

उन्होंने गृह विभाग के अधिकारियों को आदेश दिया कि मामले की जांच सीबीआई से कराने के लिए दोबारा पत्र भेजा जाए। जरा देखिये कि सरकार भी क्या खेल खेल रही है अनुष्का के परिवार वालों से जिन्हें मालूम तक नहीं की उनकी बेटी की मौत की वजह क्या रही|

एसपी को हटा देने से क्या अनुष्का को इन्साफ मिलेगा? आज उस एसपी को मैनपुरी से हटाकर कही और ट्रान्सफर कर दिया जायेगा जहाँ ऐसी ही कई अनुष्का जैसी मासूम लड़कियों की कहानियां आयेंगी| जिसके बाद एसपी का कही और तबादला कर दिया जायेगा|

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.