असदुद्दीन ओवैसी ने माँगा जबाव, दिल्ली में भड़की हिंसा पर क्यों चुप हैं अमित शाह

दिल्ली में नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के नाम पर भड़की हिंसा में अबतक 32 लोगों अपनी जान गवा चुके हैं। पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा को रोकने में नाकाम दिल्ली पुलिस पर विपक्ष लगातार सवाल खड़े कर रहा है। AIMIM प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने हिंसा को लेकर एक बार फिर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है। ओवैसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि भीड़ लगातार हिंसा कर रही है और अमित शाह ने चुप्पी साधी हुई है।

अमित शाह पर निशाना साधते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने लिखा, ‘इस पूरी घटना में जो सबसे अहम व्यक्ति है, जिसके हाथ में दिल्ली की सुरक्षा है वो अमित शाह हैं। वो व्यक्ति जिसने पागल भीड़ के द्वारा मचाए गए उत्पात पर कोई शब्द नहीं बोला, शायद कुछ तो जवाब होगा।’

गौरतलब है कि असदुद्दीन ओवैसी ने लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साधा है और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को कटघरे में खड़ा किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें :-  आम आदमी को समझ में आने वाली अंग्रेजी में कानून बनाने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से माँगा जवाब

पुलिस पर खड़े किये सवाल, सेना बुलाने की मांग

असदुद्दीन ओवैसी ने इससे पहले दिल्ली में भड़की हिंसा को रोकने में पुलिस को नाकाम बताया था। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि पुलिस दिल्ली में हिंसा रोकने में नाकाम रही है और भीड़ का हिस्सा बन चुकी है। ऐसे में गृह मंत्री को तुरंत दिल्ली के प्रभावित इलाकों में सेना भेजनी चाहिए।

सिर्फ असदुद्दीन ओवैसी ही नहीं बल्कि कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियों ने भी अमित शाह को सवालों में घेर लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी सरकार पर सवाल खड़े किए थे और दिल्ली में हुई हिंसा के लिए अमित शाह को जिम्मेदार बताया था।

बता दें कि दिल्ली में पिछले रविवार से उत्तर पूर्वी इलाके में हिंसा हुई थी, इस दौरान आगजनी-पत्थरबाजी घटनाओं को अंजाम दिया गया। दिल्ली की हिंसा में अबतक 32 लोगों की जान जा चुकी है।

1,254 total views, 6 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.