पीएम मोदी ने जी-20 देशों के नेताओं से WHO को मजबूत करने की अपील

कोरोना वायरस महामारी और इसके मानवीय और आर्थिक सहयता के लिए समन्वित वैश्विक प्रतिक्रिया को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी 20 वर्चुअल समिट में अन्य G20 नेताओं को संबोधित किया। एनएसए अजीत डोभाल और विदेश मंत्री एस जयशंकर भी उपस्थित थे। इस संबोधन में भारतीय प्रधानमंत्री ने कहा कि यह फोरम वित्तीय और आर्थिक मुद्दों को संबोधित करने का एक मंच बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-20 देशों के नेताओं से मानव जीवन पर ध्यान केंद्रित करने की योजना बनाने का आग्रह किया। उन्होंने समाज के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की कठिनाइयों को कम करने की योजना बनाने का भी आग्रह किया।

उन्होंने आपस में जुड़ी दुनिया के लिए नए संकट प्रबंधन प्रोटोकॉल और कार्यप्रणाली तैयार करने की हिमायत की। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मानव के विकास के लिए मेडिकल शोध को स्वतंत्र रूप से और खुल कर साझा करने की अपील की। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि दुनिया भर में कहीं अधिक अनुकुल, प्रतिक्रियात्मक और सस्ती मानव स्वास्थ्य सुविधा प्रणाली का विकास करने की जरूरत है। जी-20 वीडियो कांफ्रेंस में प्रधानमंत्री मोदी ने स्वास्थ्य सुविधा से जुड़े मुद्दों से निपटने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) जैसे वैश्विक संगठनों को मजबूत करने की अपील करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी से निपटने के लिए प्रभावी टीका विकसित करने के वास्ते डब्ल्यूएचओ को मजबूत करना जरूरी है।

187 total views, 1 views today

ये भी पढ़ें :-  कोरोना से निपटने के लिए भीलवाड़ा-मॉडल अपनाएगी गहलोत सरकार

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.