सरकार महामारी कानून के अंतर्गत पूरे देश को लॉकडाउन में नहीं रख सकती-ओवैसी

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने देश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए चल रहे देशबंदी को ‘असंवैधानिक करार’ दिया और मांग की कि राजग सरकार संकटग्रस्त प्रवासी मजदूरों को राहत देने के लिए कदम उठाए।

ओवैसी ने एक ऑनलाइन जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ”यह देशबंदी असंवैधानिक है। भारत सरकार राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कानून, महामारी कानून के अंतर्गत पूरे देश को लॉकडाउन में नहीं रख सकती। उन्होंने कहा कि यह संघवाद के खिलाफ है। यह राज्य का विषय है। मुझे पता नहीं कि राज्य सरकारें क्यों चुप हैं।

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 16 प्रवासी मजदूरों की ट्रेन से कुचलने से मौत की घटना का जिक्र करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने दावा किया कि देशबंदी बिना योजना के लागू की गयी और प्रवासी श्रमिक परेशानी में हैं। AIMIM नेता ने सामाजिक दूरी बनाकर रखने की जरूरत को रेखांकित किया और महाराष्ट्र में मालेगांव के लोगों से दूरी बनाकर रखने और अनुशासन का पालन करने की अपील की जहां वायरस तेजी से फैल रहा है।

ये भी पढ़ें :-  लखनऊ के कौन आवास में हो सकती हैं शिफ्ट प्रियंका गांधी

उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और राज्य सरकार में शामिल अन्य नेताओं से मालेगांव के संबंध में ध्यान देने को कहा।

90 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.