बिहार में चुनाव आयोग ने घोषित की विधानसभा चुनाव होने के तरीके, साथ ही कोरोना के कड़े नियम

बिहार में राजनीतिक हाहाकार के बाद अंत मे चुनाव का आगाज़ हो गया है। चुनाव आयोग ने बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। कोरोना काल के दौरान होने वाला यह पहले बड़े चुनाव है। 25 सितंबर यानी शुक्रवार को चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके चुनाव की तरीको का ऐलान किया। साथ ही चुनाव आयोग ने बताया कि इस बार बिहार में तीन चरणों में मतदान होंगे और नतीजे 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे। यानी दस तारीख को साफ हो जाएगा कि नीतीश कुमार एक बार फिर राज्य के मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर तेजस्वी यादव की अगुवाई में महागठबंधन नया इतिहास रच पाएगा।

बिहार में कब कहां पर होगा चुनाव?

पहला चरण: 28 अक्टूबर को 16 जिलों की 71 सीटों पर मतदान
दूसरा चरण: 3 नवंबर को 17 जिलों की 94 सीटों पर मतदान
तीसरा चरण: 7 नवंबर को 78 सीटों पर मतदान
चुनाव के नतीजे: 10 नवंबर

ये भी पढ़ें :-  जानिए पिछले एक साल में प्रधानमंत्री मोदी की कितनी सम्पति बढ़ी और अमित शाह की क्यों घटी

राजनीतिक दलों के लिए बदल गए नियम
कोरोना के चलते इस बार राजनीतिक दलों को कई कड़े नियमों का पालन करना होगा। नियमों के अनुसार डोर टू डोर कैंपेन में सिर्फ पांच लोग ही जा सकेंगे। नए नियमों के अनुसार इस बार नामांकन और हलफनामा ऑनलाइन भी भरा जाएगा, डिपोजिट को भी ऑनलाइन सबमिट किया जा सकेगा। साथ ही नामांकन के दौरान उम्मीदवार के साथ केवल दो लोग मौजूद रह सकेंगे। प्रचार के दौरान किसी से हाथ मिलाने की इजाजत नहीं होगी।

165 total views, 3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.