fbpx

सुप्रीम कोर्ट ने आरक्षण को लेकर लिया ये बड़ा फैसला

आरक्षण की समस्या हमारे देश में एक ऐसी समस्या है जिसका अभी तक कोई तोड़ नहीं निकल पाया हैं। हर कही इस बात की बहस चलती है कि आरक्षण होना चाहिए या नहीं और किनको कितना आरक्षण मिलना। वही सुप्रीम कोर्ट भी कई बार आरक्षण के इस मुद्दे के बारे में सोचती है। इसी बीच आरक्षण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा निर्णय लिया हैं।

दरअसल SC/ST आरक्षण से जुड़े मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। जानकारी के अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि, SC/ST आरक्षण के तहत सेवा या नौकरी में लाभ पाने वाला व्यक्ति किसी दूसरे राज्य में उसका फायदा नहीं ले सकता है.

असल में सुप्रीम कोर्ट के सामने सवाल था कि एक राज्य में जो व्यक्ति अनुसूचित जाति में है तो क्या वह दूसरे राज्य में अनुसूचित जाति में मिलने वाले आरक्षण का लाभ ले सकता है वही इस बात का जवाब देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा है कि नहीं, ऐसा नहीं हो सकता। इतना ही नहीं इसके साथ में ही सुप्रीम कोर्ट ने ये भी आदेश दिया है कि कोई भी राज्य सरकार अपनी मर्जी से अनुसूचित जाति, जनजाति की लिस्ट में कोई बदलाव नहीं कर सकती है।  ये अधिकार सिर्फ राष्ट्रपति का ही है, या फिर राज्य सरकारें संसद की सहमति से ही लिस्ट में कोई बदलाव कर सकती है।

ये भी पढ़ें :-  IND vs SA:- रोहित ने 95 रन पर बादलों से कहा- 'अभी नहीं', देखें वीडियो

लेकिन जानकारी के लिए बता दे कि जो व्यक्ति राजधानी दिल्ली में सरकारी नौकरी करने वालों को अनुसूचित जाति से संबंधित आरक्षण केंद्रीय सूची के हिसाब से मिलेगा। साथ ही जानकारी के लिए बता दें कि एक अन्य मामले में भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है, जिसमें ये तय होना है कि क्या सरकारी नौकरी में मिलने वाले प्रमोशन में भी एससी/एसटी वालों को आरक्षण मिलना चाहिए या नहीं।

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.