अरब देशों ने पलटवार कर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ कह दी ये बड़ी बात

हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल पर चिंता जताई थी। खबरों की माने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चेतावनी के एक दिन बाद अरब देश सफाई देने के लिए आगे आया हैं। इतना ही नहीं  ऐसी खबर आ रही है कि उन्होंने उलटा पीएम मोदी पर ही सवाल दाग दिए हैं। मिली जानकारी के अनुसार तेल उत्पादक देशों के संगठन (OPEC) ने ये कहा कि उन्होंने भारत और अन्य ऑयल कंज्यूमर कंट्रीज को फेल नहीं किया है, क्योंकि चार साल की मंदी के बाद उन्होंने मार्केट में स्टैब्लिटी को बहाल किया था। ओपेक के मेंबर्स में अधिकांश अरब देश हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार OPEC के सेक्रेटरी जनरल सानुसी बरकिंडो ने कहा कि बीते महीनों में आई स्टैबिलिटी को दुनिया के लीडिंग ट्रेडिंग पार्टनर्स के बीच टकराव जैसी घटनाओं के कारण हालात बिगड़ रहे हैं और ब्याज दरों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। ऐसा कहा जा रहा है उन्होंने इंडिया एनर्जी फोरम में अपने संबोधन के दौरान ये बातें कहीं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने मोदी की चेतावनी पर उल्टा पीएम मोदी पर ही सवाल दाग दिए। उन्होंने ये कहा कि एक साल पहले पीएम मोदी, तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और इंडस्ट्री लीडर्स सभी ने ‘मंदी से इंडस्ट्री को उबारने के लिए ओपेक और गैर ओपेक देशों के संयुक्त प्रयासों की तारीफ की थी।’

इतना ही नहीं आगे उन्होंने कहा कि, ‘तेल के तीसरे बड़े कंज्यूमर भारत ने खुद इस बाजार में स्टैबिलिटी लाने की दिशा में किए गए इस सामूहिक प्रयास को माना था। आगे भी स्टैबिलिटी लाने की दिशा में प्रयास किए जाते रहेंगे।’ तेल के बाजार में बिना स्टैबिलिटी बड़े कंज्यूमर देश डिमांड और सप्लाई के प्रबंधन की योजना नहीं बना सकते हैं।

वही उन्होंने आगे बात करते हुए ये कहा कि, ‘हमने भारत को फेल नहीं किया है। हमारे सभी फैसले कंज्यूमर देशों के हितों को देखकर ही लिए जाते हैं। भारत के विकास, संपन्नता और तेल के इस्तमाल में हमारे भी हित हैं।’

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
error: Content is protected !!