फिर लौटा घड़ियों का दौर, बन रहा नया फैशन ट्रैंड

एक समय था जब घड़ि पहनने को लोग अपनी शान समझते थे, फिर वक्त बीता और मोबाइल के दौर में सब घड़ियों को भूल गए। लेकिन अचानक से फिर कलाई में बांधने वाली घड़ियों का दौर शुरू हो गया है।

फैशन के साथ एक बार फिर से आजकल के दौर में खासकर हर वर्ग में बड़े यानी ब्राड साइज की घड़ियों को पसंद किया जाने लगा। एक फिर बार से फैशन के साथ युवाओं में बड़े साइज की घड़ियों का क्रेज बढ़ गया है।

दरअसल बैग और पाकेट में मोबाइल फोन और अन्य गैजेट पड़े होने की वजह से हम जल्दबाजी में टाइम भी सही तरह से देख नहीं पाते हैं।

इतना ही नही युवा अपने फैशन एसेसरीज को लेकर ज्यादा पैसा खर्च करने से भी नहीं कतरा रहे हैं। साथ ही वे लोकल कंपनी की घड़ियां पहनने के बजाय ब्रांडेड कंपनी की घड़ियां पहनना पसंद कर रहे हैं।

सूत्रों कि माने तो मोबाइल फोन और अन्य गैजेट के कारण पहले दो साल में घड़ियों का दौर खत्म हो गया था, लेकिन फैशन जगत और मास मीडिया के कारण पिछले छह महीनों में युवाओं का घड़ियों के प्रति रुख बढ़ गया है। युवतियां घड़िया ड्रेस के साथ मै¨चग करके पहनना पसंद कर रही हैं। युवाओं के द्वारा छोटे साइज और लैदर बेल्ट की घड़ियां पहनी जाती थी, लेकिन अब फैशन बदल गया है और स्टाइल भी। अब ग्राहक ब्रांडेड कंपनी की घड़ियां पहनना पसंद कर रहे हैं। कीमत 1000 रुपये से शुरू होकर 6000 हजार रुपये तक है। मार्केट में स्पोर्टी घड़ी की कीमत 1000 से लेकर 5000 रुपये तक है, परेप्चुअल घड़ियों की कीमत 4000 से लेकर 5000 रुपये तक है। वहीं क्रोनोग्राफ घड़ी की कीमत 3000 से शुरू होकर 5000 रुपये में खत्म होती है

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.