fbpx

PM मोदी ने अपने नाम से हटाया चौकीदार शब्द, वजह भी बताई

लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम आ चुके है। और अब फिर से बीजेपी 2014 के बाद 2019 में भी अपनी सरकार बनाने वाली है वही इन सबके बीच पीएम नरेंद्र मोदी एक बड़ी खबर सामने आई है।  

दरअसल जिस मुद्दे को लेकर कांग्रेस चुनाव लड़ रही थी कि देश के चौकीदार चोर है। उसकी मुद्दे को पीएम मोदी ने अपने सुरनेम पर लगा दिया चौकीदार नरेंद्र मोदी जिसके बाद से सभी नेता लोगो ने अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द लगा दिया।लेकिन चुनाव ख़त्म होते ही नरेंद्र मोदी स से अपने नाम के आगे से चौकीदार शब्द हाटा दिया।

पीएम मोदी ने चुनाव जीतने के बाद ही गुरुवार को किए गये ट्वीट में कहा, ‘अब समय आ गया है कि चौकीदार भावना को अगले चरण तक ले जाया जाए, इस भावना को प्रति क्षण जीवंत बनाये रखते हुए भारत की प्रगति के लिए काम जारी रखा जाए।‘ जिसके बाद उन्होंने कहा, ‘मेरे ट्वीट से चौकीदार शब्द हट रहा है किंतु यह मेरा अभिन्न अंग रहेगा। आप सभी से यही करने का अनुरोध करता हूं।’

पीएम मोदी के इस अनुरोध के बाद सभी लोगो ने चौकीदार शब्द हटाने शुरू कर दिया। जिनमें प्रमुख भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिपल्ब कुमार देब, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद और केंद्रीय मंत्री डॉ। हर्ष वर्द्धन, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, अर्जुन राम मेघवाल, सांसद ओम बिड़ला और दीया कुमारी सहित भाजपा के अनेक नेताओं शामील है।

जिन्होंने पीएम मोदी के ट्वीट करने के तुरंत बाद ही अपने नाम से चौकीदार शब्द हटाया। हालांकि अभी भी भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत सहित भाजपा के कुछ नेताओं के नाम के आगे चौकीदार शब्द लगे हुए है।

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान ‘चौकीदार’ शब्द काफी चर्चा में रहा क्योंकि कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी दल प्रधानमंत्री मोदी को भ्रष्टाचार के मुद्दों पर निशाना बनाने के लिए अपनी चुनावी सभाओं में ‘चौकीदार चोर है’ का नारा लगवाते थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.