किसानों के लिए खुशख़बरी, इस बार होगी जमकर बारिश

किसान जोकि तपती धूप में काम करते हैं पूरे देश का पेट भरने के लिए उनके लिए इस बार एक अच्छी ख़बर हैं। ख़बर ये है कि इस साल देश में मानसून अच्छा और सामान्य रहेगा तथा जमकर बारिश की भी संभावना है।  मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश ने साउथ वेस्ट मानसून के बारे में कहा कि, ‘इस बार दक्षिण-पश्चिम मानसून सामान्य रहने की आशंका है। एल नीनो का प्रभाव अगर होगा भी तो बहुत कम’।

भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को कहा कि इस साल मानसून के सामान्य रहने की उम्मीद है। मानसून के आखिरी दो महीनों में बहुत अच्छी बारिश का अनुमान लगाया जा रहा है। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस बार सीज़न में बारिश बहुत अच्छी रहने वाली है, जो खेती के लिए बहुत अच्छा और उपयोगी रहेगा। खेती बरसात पर ही आधरित रहती है और इस बार जमकर बारिश होगी।

मानसून का दूसरा पूर्वानुमान जून के पहले सप्ताह में जारी किया जाएगा, जिसका अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि ये पूर्वानुमान काफी सटीक बैठेगा। मौसम विभाग के अनुसार मानसून सीजन (जून-सितंबर) के बीच बरसात होने का अनुमान है। मानसून सीजन के दौरान 96 प्रतिशत बारिश का अनुमान है। इसमें कुछ प्रतिशत ऊपर-नीचे हो सकता है।

पृथ्वी और विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम. राजीवन नायर ने कहा, “भारत में 2019 में मानसून तकरीबन सामान्य रहने वाला है क्योंकि दक्षिण-पश्चिम मानसून लगभग सामान्य रहने की उम्मीद है।”

स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह ने कहा  कि, ‘जून में एलपीए की 77 प्रतिशत बारिश हो सकती है जबकि जुलाई में एलपीए की 91 प्रतिशत बारिश दिख सकती है। जतिन सिंह ने बताया कि पूर्वानुमान के अनुसार जून और जुलाई में सामान्य से कुछ कम बारिश होने की संभावना है। अगस्त और सितम्बर में एलपीए के 102 प्रतिशत और 99 प्रतिशत बारिश हो सकती है’।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.