fbpx

पाकिस्तान का IMF के साथ समझौता, जीत या हार?

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पकिस्तान को IMF से बड़ी राहत मिली है। IMF ने पाकिस्तान को 6 अरब डॉलर का बेलआउट पैकेज देने का फैसला किया है।

आईएमएफ से पाकिस्तान की यह डील अगले तीन साल के लिए हुई है। यानी आईएमएफ आने वाले तीन सालों में पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए 6 अरब डॉलर का बेलआउट पैकेज देगा। अगले तीन सालों में आईएमएफ पाकिस्तान को ये पैकेज देगा। इससे पाकिस्तान को आर्थिक तंगी से निकलने में सहायता मिलेगी। लेकिन इसके साथ ही पाकिस्तान पर कई तरह की शर्ते लागु हो जाएगी, जी हां IMF पाकिस्तान की मदत तो कर रहा है लेकिन इसके बदले उसे बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ रही है।

बता दें कि पाकिस्तान 1950 में आईएमएफ का सदस्य बना था, जिसके बाद से अब तक वह 21 बार बेलआउट पैकेज ले चुका है और अब इस नए पैकेज को मंजूरी मिलने के बाद यह 22वां बेलआउट पैकेज होगा।

IMF ने पाकिस्तान की मदत तो है लेकिन इसके साथ ही टैक्स को लेकर सभी तरह की छूट को ख़त्म करने की शर्त भी रखी है और भी कई अंदरूनी मामलो में अब IMF का हस्तक्षेप होगा।
आईएमएफ ने पकिस्तान को फिजूल खर्च बंद करने की भी हिदायत दी है।

आपको बता दें कि सरकार में आने से पहले इमरान खान IMF से लोन लेने के शख्त खिलाफ थे, लेकिन अब मजबूरन उन्हें ये कदम उठाना पड़ा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.