विमान में सवार होने के बाद अचानक यात्रिओं के नाक और कान से निकलने लगा खून

मुंबई से जयपुर जा रहे जेट एयरवेज के विमान में गुरुवार सुबह यात्रियों के कान और नाक से अचानक खून निकलने लगा। अचानक से हुई इस घटना से विमान में अफरातफरी सी मच गई। इस घटना के बाद विमान को वापस मुंबई ले जाया गया। बताया जा रहा है कि फ्लाइट में क्रू मेंबर्स की एक भूल के कारण फ्लाइट को यात्रा के बीच से ही मुंबई वापस मोड़ना पड़ा।

दरअसल, क्रू मेंबर केबिन का प्रेशर स्विच मेंटेन करना भूल गए थे जिसके कारण लोगों को यह परेशानी हुई। बता दें कि जेट एयरवेज फ्लाइट 9 डब्ल्यू 697 के इस विमान में 166 यात्री सवार थे। इसने गुरूवार की सुबह 5:53 पर उड़ान भरी थी। विमान जब बीच हवा में पहुंचा तो उनमें से 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकलने लगा।

ऐसे में विमान में हड़कंप मच गया और किसी को समझ नहीं आ रहा था कि आखिर ये हो क्या रहा है। उसके तुरंत बाद ही विमान के क्रू मेंबर को ध्‍यान आया कि उन्‍होंने केबिन प्रेशर मेंटेन करने वाले स्विच को नहीं दबाया है। इसके चलते विमान के ऊंचाई पर पहुंचने से लोग हवा की कमी महसूस करने लगे और लोगों के नाक और कान से खून निकलने लगा। इसके अलावा कई यात्रियों को सिर दर्द भी होने लगा था।

वही इस पर जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने घटना पर सफाई देते हुए कहा कि “166 यात्रियों और 5 क्रू मेंबर्स समेत विमान को मुंबई में सामान्य ढंग से उतार लिया गया है। विमान के अंदर सभी यात्री सुरक्षित हैं। जिन यात्रियों ने नाक और कान से ब्लीडिंग की शिकायत की थी उन्हें फर्स्ट ऐड मुहैया करा दिया गया है। अब स्थिति सामान्‍य है।” उन्‍होंने यह भी बताया कि जिस क्रू मेंबर की गलती से यह हादसा हुआ था उसे ड्यूटी से हटा दिया गया है। साथ ही मामले की जांच के आदेश भी दे दिए गए हैं। और इएयरक्राफ्ट ऐक्सिडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.