fbpx

इस वजह से पाकिस्तान नहीं चाहता नरेंद्र मोदी दोबारा भारत के प्रधानमंत्री बनें

लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम आने से महज कुछ इस समय बचा हुआ है। वही इन चुनाव के परिणाम का इंतजार सभी राजनीतिक पार्टियां को है।  वही इन सबके बीच पाकिस्तान  को भी इन चुनाव का परिणाम का इंतजार है। जिनके नागरिक और मंत्री यहां आने वाले चुनाव परिणाम पर नज़र रखे हुए है। और वो नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी दोबारा भारत के प्रधानमंत्री बनें

दरअसल अधिकतर पाकिस्तानी नागरिक नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की वापसी के बारे में वहां के टीवी न्यूज चैनल के जरिए अपनी राय बता रहे है। और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। लाहौर के रहने वाले शाही आलम ने एक इंटरव्यू के दौरान पाकिस्तानी टीवी चैनल से कहा था कि , ‘मोदी को सत्ता में वापस नहीं आना चाहिए, उन्होंने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक कराई है।’

वहीं दूसरे शख्स ऐजाज ने कहा, ‘मुझे मोदी के बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में आने पर संदेह है। मुझे यकीन है कि उन्हें बहुमत नहीं मिलेगा जो पाकिस्तान के लिए अच्छा है।’ जबकि लंदन में रहने वाले पाकिस्तानी बिजनसमैन रियाज कहते हैं, ‘पाकिस्तान में रहने वाले लोगों के विचार विदेश में रहने वाले लोगों से अलग हैं। हमारा मानना है कि मोदी को सत्ता में दोबारा वापसी करनी चाहिए। यह पाकिस्तानी धरती से संचालित होने वाले आतंकवादी संगठनों के लिए एक निवारक के रूप में काम करेगा और पाकिस्तान सरकार पर हमारी मातृभूमि से आतंकवाद को खत्म करने के लिए दबाव डालेगा।’

वही आपको बता दे कुछ महीने पहले ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अगर मोदी 2019 का चुनाव जीतते हैं तो दोनों देशों के बीच शांतिवार्ता के अवसर बेहतर होंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.