डीएम धर्मेंद्र कुमार का पारिवारिक झगड़ा अब उतरा सड़को पर

बिहार के जमुई जिले के डीएम धर्मेंद्र कुमार का पारिवारिक झगड़ा आजकल सुर्खियों में है। खबर आ रही हैं कि बिहार के जमुई जिले के डीएम धर्मेंद्र कुमार और उनकी पत्नी वत्सला सिंह का झगड़ा अब सड़क पर आ गया है। खबरों की माने तो अपने डीएम पति के घर में एंट्री न मिलने पर वत्सला सिंह परिवार समेत बुधवार को डीएम आवास पर आ धमकीं और वहां धरने पर बैठ गईं। इतना ही नहीं बल्कि इस दौरान उन्होंने कोठी में जबरदस्ती घुसने की कोशिश की, जिसके बाद गार्ड्स ने किसी तरह उन्हें रोका।

 

मिली जानकारी के अनुसार 26 साल की वत्सला सिंह और उनकी मां पुष्पा सिंह पटना से बुधवार सुबह 8 बजे जमुई पहुंचे थे। इस बारे में बताते हुए वत्सला ने ये आरोप लगाया कि, ‘मेरे पति के घर पर उनके सुरक्षा गार्ड्स ने हमें अंदर नहीं जाने दिया और दरवाजे पर ही रोक दिया। इसके बाद शाम तक दोनों डीएम आवास के सामने अखबार बिछाकर बैठी रहीं।

आगे वत्सला ने ये बताया कि, ‘बिना कुछ बताए और चर्चा किए मेरे पति ने मार्च में पटना फैमिली कोर्ट में हमारे तलाक की अर्जी डाल दी। मैंने उनसे बात करने की कोशिश की, लेकिन हर बार नाकाम रही।’ गौर करने वाली बात ये है कि डीएम धर्मेंद्र कुमार के ऊपर उनकी पत्नी ने पहले भी कई आरोप लगाए हैं और मामला महिला आयोग के पास भी जा चुका है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार धर्मेंद्र कुमार ने वॉट्सऐप मेसेज पर अपना पक्ष रखते हुए कहा, ‘मामला कोर्ट में है और इसपर सुनवाई हो रही है। उन्होंने अप्रैल में मुझपर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था, जो बात में गलत निकला था। मैं इस मामले में कोर्ट का आदेश ही मानूंगा।’ तलाक की अर्जी 7 मार्च को फाइल की गई थी।

बता दे कि 2013 बैच के आइएस अधिकारी धर्मेद्र कुमार मूलत: नालंदा जिले के हथिला चौरसी गांव के निवासी हैं। दरअसल इनकी शादी पटना के बड़े व्यापारी विनय सिंह की छोटी बेटी वत्सला सिंह से 11 मार्च 2015 को हुई थी। वही शादी के कुछ दिनों बाद ही दोनों के रिश्ते में खटास आ गई। इस बारे में ये कहा जाता है कि शादी के बाद वत्सला सिंह महानगरों में रहना चाहती थी। साथ ही परिवार के सदस्यों के साथ भी बर्ताव कुछ सहज नहीं था। यह बात डीएम को नागवार गुजरता था। इस बीच रिश्तों में आई कड़वाहट को पाटने का सामाजिक तौर पर भरसक प्रयास किया गया, लेकिन ऐसा देखा जा रहा है कि ये बात न्यायालय से लेकर अब सड़कों तक आ पहुंची ।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Sanjeev pandey

Sanjeev Pandey | Developer,  IT Researcher, Consultant, Blogger