fbpx

दिग्विजय सिंह की हार पर जल समाधि का दावा करने वाले मिर्ची बाबा आए सामने, कही ये बड़ी बात

हाल ही में देश में लोकसभा चुनाव हुए थे। वही इन चुनाव में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था। वही इन सबके बीच लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश के भोपाल से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह की जीत का दावा करने वाले  पूर्व महामंडलेश्वर बाबा वैराज्ञानंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा को लेकर के बड़ी खबर सामने आई है और इस वजह से वो चर्चा में बने हुए है।

दरअसल मिर्ची बाबा ने दावा किया था कि इस चुनाव में दिग्विजय सिंह की जीत जरूर होगी, अगर ऐसा नहीं होता है तो वह समाधि ले लेंगे। वहीं इन लोक सभा चुनाव में दिग्विजय सिंह की हार का सामना करना पड़ा था। जिसके बाद मिर्ची बाबा भोपाल के जिलाधिकारी से समाधि की इजाजत मांगी है।

मिर्ची बाबा ने भोपाल के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर इस बात की इजाजत मांगी है कि उन्हें 16 जून को दोपहर 2।11 बजे जल समाधि लेने दिया जाए।

आपको बता दे चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद से मिर्ची बाबा लापता हो गए थे। जिसके बाद कई लोगों ने उनका मोबाइल नंबर तलाश किया और उन्हें फोन करके पूछा कि आप कब समाधि लेंगे। लेकिन चुनाव नतीजे आने के बाद से ही मिर्ची बाबा लापता थे।

आपको बता दे चुनाव में मिर्ची बाबा ने दिग्विजय सिंह की जीत के लिए मिर्ची हवन किया था। इस दौरान उन्होंने संकल्प लिया था कि अगर दिग्विजय सिंह चुनाव में नहीं जीते तो वह जिंदा जल समाधि ले लेंगे। वही आपको बता दे इस मिर्ची हवन के बाद से ही मिर्ची बाबा विवादों में आई। उसके बाद निरंजनी अखाड़े ने वैराज्ञानंद को निष्कासित कर दिया था। बाबा पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के महामंडलेश्वर थे। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत गिरी ने वैराज्ञानंद के इस हवन को गलत ठहराते हुए इसे साधु-संतों की मर्यादा के खिलाफ बताया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.