ठगने आया था बदमाश, तोंद की वजह से गया फंस !

मोटू-पतलू की जोड़ी हमने बहुत देखी होगी फिर चाहे वो टीवी पर कार्टून वाली ही क्यों न हो। दोनों लोगों को हँसाने के लिए बहुत से मजेदार करैक्टर प्ले करते हैं। लेकिन ये तो बात हो गयी टीवी के कार्टून मोटू-पतलू की। लेकिन अब असल ज़िन्दगी में भी मोटू-पतलू कुछ अलग ही कारनामे करते दिखाई दे रहे हैं।

जी हाँ, हम बात कर रहे हैं असल ज़िन्दगी में मोटू-पतलू की जोड़ी की। जो लोगों को हँसाने का नहीं बल्कि उन्हें परेशान करने का काम करते हैं, उन्हें लूटने की कोशिश करते हैं। ये अजीबो गरीब मामला दिल्ली के लाहौरी गेट इलाके से आया है।

यहां दो बदमाश मोटू और पतलू एक शख्स को ठगने की कोशिश कर रहे थे लेकिन शख्स ने अपनी समझदारी से काम लिया और दोनों बदमाश अपनी मंशा में कामयाब नहीं हो पाए। बता दें कि ये दोनों एक शख्स को डेढ़ लाख का लालच देकर अपनी बातों में उलझा रहे थे। लेकिन उस आदमी ने समझदारी से काम लिया और दोनों बदमाशों को उनकी चाल में कामयाब नहीं होने दिया। उनमें से एक बदमाश को पकड़ लिया गया क्योंकि वह अपनी भारी-भरकम वजन के कारण भाग नहीं पाया। जबकि उसका दूसरा साथी जो पतला था वो भाग निकला।

बता दें कि पूरा मामला चांदनी चौक स्थित केनरा बैंक के सामने का है। सीलमपुर निवासी राज कुमार पासवान चांदनी चौक स्थित केनरा बैंक के अपने अकाउंट से चेक से कैश निकालने पहुंचे थे। उसी वक्त दो शख्स वहां आए जिनमें एक मोटा और एक पतला था। उनमें से दुबला-पतला बदमाश बगल में बैठ गया जबकि तोंदू शख्स उसे कवर करते हुए वहीं खड़ा हो गया। फिर बगल वाले ने धीरे से कहा कि वो मालिक का 1।75 लाख रु चुराकर ले आया है और उसके पास कोई बैंक अकाउंट नहीं है।

राजकुमार पासवान को बहलाते हुए उसने अकाउंट में पैसे जमा करने की पेशकश की और कहा कि 50 हजार वो रख ले बाकी रकम वो बाद में ले लेगा। राजकुमार ने काउंटर से 20 हजार रुपए निकाले और दोनों के साथ बाहर आ गए। तभी दुबले-पतले शख्स ने रुमाल में लिपटे रुपयों को 1।5 लाख बताकर राजकुमार को दिया और अपनी बातों में फंसाकर 20 हजार ले लिए। कुछ देर बाद राजकुमार को शक हुआ और जैसे ही उसने रुमाल खोला तो उसने 500 के नोटों के बीच अखबारों की कतरें लगी देखीं। राजकुमार जैसे ही उन दोनों बदमाशों को पकड़ने दौड़ा, उनमें से पतला युवक तो भाग निकला लेकिन मोटा आदमी भाग नहीं सका और वह पकड़ा गया।

तोंदू बदमाश के पकड़े जाने के बाद तुरंत पुलिस को बुलाया गया। पुलिस उस तोंदू बदमाश को लाहौरी गेट थाने ले गई और पूछताछ की। उसके पास से असली नोटों के बीच कागज की रद्दी मिली। जानकारी के मुताबिक मोटू-पतलू की यह जोड़ी इसी प्रकार ठगी को अंजाम देती थी। पुलिस अब दूसरे बदमाश की तलाश कर रही है।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter