fbpx

अब ‘मन की बात’ नहीं करेंगे पीएम मोदी, जानें क्या है कारण

भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर महीने के रविवार को रेडियो के जरिए  ‘मन की बात’  की बात करते है और इस दौरान कई सारी अहम चीजो की बात करते है और उन चीजो का जीकर भी करते है।

वही रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’  कार्यक्रम के 53वें एपिसोड में देशवासियों को संबोधित किया पीएम ने खुद ट्वीट कर इस बार के एपिसोड को खास बताया था। इस बार पीएम किसानों से खासतौर पर बात की। सभी मुख्यमंत्रियों, कृषि मंत्रियों, सांसदों, विधायकों को किसानों के साथ मन की बात सुनने को पहले से ही कहा गया था। वही अब खबर है कि अब पीएम मोदी मन की बात नहीं करेंगे।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कार्यक्रम ने कहा कि कुछ ही दिनों में लोकसभा चुनाव की शुरुआत हो जाएगी। ऐसे में अगली बार मन की बात कार्यक्रम मई के महीने में होगा। उन्होंने कहा कि अगले कई साल तक आपसे मन की बात करता रहूंगा।

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ ही दिनों में देश में बोर्ड एग्जाम होने वाले हैं। ऐसे में उन्होंने एग्जाम वॉरियर्स को शुभकामनाएं दीं। साथ ही, परीक्षा के दौरान तनाव न लेने की सलाह भी दी।

आपको बता दें कि ‘मन की बात’  कार्यक्रम की शुरुआत अक्टूबर 2014 में हुई थी। उसके बाद से पीएम नियमित तौर पर इस रेडियो कार्यक्रम के जरिये लोगों से बात करते रहे हैं। इस बार लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगने से पहले का एपिसोड काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। अगर आचार संहिता नहीं लगी तो ‘मन की बात’ का तीन मार्च को अंतिम एपीसोड हो सकता है। वही ये भी कहा जा रहा है कि आने वाले समय में लोक सभा चुनाव होने वाले है। वही इन लोकसभा चुनाव के जरिए तय होगा की आने वाला प्रधानमंत्री कौन बनेगा। वही अगर नरेंद्र मोदी  प्रधानमंत्री नहीं बने तो शयद वो अब से मन की बात न करे।     

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter