fbpx

क्या मोदी थे जीत से वाकिफ,बना रखे थे ये प्लान्स…

2019 लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत और बहुमत हासिल कर सत्ता में दूसरी बार अपनी पकड़ बना चुके पीएम नरेंद्र मोदी ने अभी सत्ता संभाली भी नहीं थी की उससे पहले ही पीएम नरेंद्र मोदी ने विदेशी यात्रा पर जाने की योजना बना ली थी। जिसमें उन्होंने किर्गीस्तान, जापान, फ्रांस और ब्राजील जैसे देशों में जाने की योजना शामिल कर रखी है। सूत्रों के मुताबिक मोदी ने यह योजना सत्ता में दूसरी बार आने से पहले ही बनाई हुई थी।

क्या मोदी जानते थे कि वह 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में फिर से अपनी सत्ता पर राज करेंगे? या यह बात सच है की विपक्ष पार्टियों के मुताबिक लोकसभा चुनाव में गोलमाल है? यह बात सच नहीं है।दरअसल बात यह कि पीएम मोदी के नए शासनकाल के शुरूआत के साथ ही शंघाई सहयोग संघठन की बैठक किर्गीस्तान में होनी है। जो जून 14-15 को बिस्केक में होने जा रही है| शंघाई शिखर सम्मेलन इसलिए जरुरी है क्यूंकि इस चर्चा में काफी लम्बें टीम के बाद भारत और पकिस्तान के प्रधानमंत्री एक ही मच पर एक साथ नजर आएंग।

एससीओ इवेंट में जाने के बाद भारत के पीएम मोदी रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ साथ अन्य नेताओं से भी मिल पाएंग। शंघाई सम्मेलन के दो सप्ताह बाद पीएम मोदी जापान के ओसका में होने वाली जी20 शिखर चर्चा के लिए लौटेंगे। यह चर्चा जून 28 और 29 को होगी। इसी दौरान पीएम मोदी की मुलाकात डोनाल्ड ट्रम्प यानी की अमेरिकी राष्ट्रपति से होगी।

दरअसल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के बाद पीएम मोदी ने अपनी विदेशी यात्रा की शुरुआत पड़ोसी देश भूटान से किया था। सूत्रों के मुताबिक इस बार भी पीएम मोदी ने अपनी विदेशी यात्रा की शुरुआत पड़ोसी देशों से कर सकते है। तो वही श्रीलंका में 2019 के आखिरी महीने तक चुनाव होंगे,ऐसे में यह कहा जा रहा है कि पीएम मोदी सत्ता में वापस आने के बाद प्राथमिकता दे रहे है,जहां बिम्सटेक शिखर बैठक भी होनी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.