कलराज मिश्र के साथ 6 मंत्रियों का इस्तीफा, मंत्रिमंडल विस्तार कल

  • कलराज मिश्र के साथ 6 मंत्रियों का इस्तीफा, मंत्रिमंडल विस्तार कल

खबर_संवाददाता - Shaini

On 0000-00-00 00:00:00 3266

मोदी मंत्रिमंडल का फेलबदल होगा, यह तीसरा विस्तार होगा। इस विस्तार में कई अबम मु्द्दो पर चर्चे के साथ कई बड़े फैसले भी लिए जाएंगे। विस्तार से पहले लघु उघोग मंत्री कलराज मिश्र के साथ अबतक कैबिनेट से 6 मंत्री इस्तीफा दे चुके हैं। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि मोदी सरकार बनने के बाद मंत्रिमंडल में ये अब तक का सबसे बड़ा फेरबदल हो सकता है। लेकिन इस बड़े फेरबदल मे कौन कौन शामिल होगा, कौन-सा नेता बाहर होगा इस पर अभी बीजेपी पार्टी और सरकार में मंथन चल रहा है, लेकिन इन सब अटकलो के बीच बड़ा सवाल तो यही है कि आखिर कौन बन सकता है देश का अगला रक्षा मंत्री? किसको मिल सकती है रक्षा मंत्री की कमान?

 

कौन बनेगा रक्षा मंत्री ?

देश के अगले रक्षा मंक्षी के लिए चर्चे जारी है, सवाल इस पर ही आकर रुक रहा है कि आखिर मोदी किसको चुन सकती है। पीएम ने अपने चार मंत्रियो राजनाथ, अरुण, सुषमा और नितिन गड़करी से कहा है कि आप लोग ही तय करेंगें कि आखिर किसको अगल रक्षा मंत्री की कमान दी जाए। पिछले एक हफ्ते से इसपर चर्चा जारी रही है, ये चार मंत्री भी आपस मे कई बार बातचीत कर चुके हैं, लेकिन देश के अगले रक्षा मंत्री की जिम्मेदारी किसे दी जाए यह अभी कत तय नही हुआ है।

 

एक साथ दो पद नही संभाल सकते जेटली

बता दे कि इस साल की शुरुआत में ही मनोहर पर्रिकर ने रक्षा मंत्री के पद को छोड़ दिया था, और उन्होने फिर गोवा के मुख्यमंत्री का पद ग्रहण किया था। जिसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली को रक्षा मंत्रालय का कार्य सौंपा, लेकिन चीन और पाकिस्तान के बीच हो रहे तनाव के दौरान रक्षा मंत्री की जरूरत हो रही थी। अरुण जेटली ने यह भी कहां था कि वो एक साथ दो पद को नही संभाल सकते है।

 

अभी तक नही आया नाम

खबरो के मुताबिक ऐसा कई दफा हुआ जब रक्षा मंत्री के लिए कई नाम सामने आए हैं। इस पद के लिए राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज और नितिन गडकरी का नाम भी आए। इसके अलावा बीजेपी उपाध्यक्ष ओम माथुर का नाम भी इस पद के लिए शामिल है। वही दुसरी और सुरेश प्रभु जो रेल मंत्री के पद से इस्तीफे की पहले ही बात कर चूके है उनका नाम भी इस पद के लिए चर्चा में बना है। चारो नेता को दी गई जिम्मेदारी मे इस मुद्दे पर चर्चा की गई थी लेकिन अभी तक बात नही बनी।

 

बदले जा सकते हैं 18 से 30 मंत्रियों के मंत्रालय

कैबिनेट बैठक से पहले ही सात मंत्री इस्तीफा दे चुके हैं। केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने भी इस्तीफा दे दिया है। खबर के मुताबिक सिर्फ 7 मंत्री नहीं बल्कि 10 से 12 मंत्री कैबिनेट से बाहर हो सकते हैं। इन्हें संगठन की जिम्मेदारी दी जा सकती है। इसके साथ 18 से 30 मंत्रियों के मंत्रालय बदले जा सकते हैं।