टीचर्स डे: जानिए सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में ये अहम बाते

  • टीचर्स डे: जानिए सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में ये अहम बाते

खबर_संवाददाता - Shaini

On 0000-00-00 00:00:00 3265

भारत में टीचर्स-डे मनाने की परंपरा की शुरुआत 5 सितम्बर 1962 से हुई और ये परंपरा अब पूरे देश में मनाया जाता है, यह परंपरा देश की रगों में समा चुकी है। देश के पहले उप राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म इस दिन हुआ था जिस मौके शिक्षक दिवस 1962 से हर साल 5 सितंबर को मनाया जा रहा है। राधाकृष्णन बेहद अच्छे और प्रसिद्ध शिक्षाविद थे। इसके अलावा डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने 40 सालों तक टीचर के रूप में काम भी किया। इस दौरान जब वो राष्ट्रपति बने तो उनके ही जन्मदिन के अवसर पर टीचर्स डे मनाने की परंपरा को आगे बढ़ाया गया।

साल 1954 में मिला भारत रत्न
डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को 1954 में देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा ऑर्डर ऑफ मेरिट, नाइट बैचलर जैसे कई बड़े अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था।

 

क्यों अहम है यह दिन
उनका जन्म-दिन हर साल पांच सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में हर्ष और उल्लास में मनाया जाता है। हमारे देश में गुर-शिष्य की महान परंपरा रही है, जिसके तहत गुर अपना ज्ञान अपने शिष्यों को प्रदान करते हैं।