क्या है महिला पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या का सच?

  • क्या है महिला पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या का सच?

खबर_संवाददाता - Shaini

On 0000-00-00 00:00:00 2825

कन्नड़ की वरिष्ठ महिला पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश के उपर कुछ हमलावरों ने हमला कर दिया। बता दे कि बंगलुरु स्थित उनके घर पर गौरी की गोली मारकर हत्या कर दी। गौरी के उपर रात के समय मे हमला किया गया था, उस समय उन्हे बिल्कुल करीब से गोली मारी गई, जब वह राजराजेश्वरी नगर में अपने घर का दरवाजा खोलने की कोशिश कर रही थीं। उनके सिर पर लगातार तीन गोलियां दागी गईं और गोली लगते ही उनकी उस जगह पर मौत हो गई। हादसे के बाद पुलिस ने जांच शुरु कर दी है।

 

लगातार 7 गोलियां चलाई गई
पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने वारदात की जानकारी दी, बताया कि शाम को गौरी लंकेश ने राजराजेश्वरी नगर इलाके में स्थित अपने घर के सामने अपनी कार को रोका और दरवाजा खोलने के लिए इपने घर के दरवाजे की तरफ बढ़ी। उस दौरान अज्ञात हमलावरों ने उनके उपर फायरिंग शुरू कर दी। यह फायरिंग करीब 7 राउंड तक चली। इसमें से 4 गोली गौरी को लगी, 3 गोली उनके सिर में लगी हैं। फायरिंग जैसे ही शुरु की गई वैसे ही गोली की आवाज सुनकर पड़ोसी में रह रहे लोग बाहर निकले। उस दौराम गौरी की हालत बूरी थी वो खून से लथपथ थी।

उन्होंने बताया कि घटनास्थल के आसपास मौजूद सभी सीसीटीवी फुटेज को पुलिस ने अपने हवाले कर लिया है। मुख्य रूप से 2 सीसीटीवी कैमरों में क्राइम सीन मौजूद है, जिसमें संदिग्ध हत्यारे इस तरह की हरकते करते दिखाई दे रहे है। गौरी के शव के पास से कारतूस के चार खोखे बरामद किए गए हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है। एसीपी केंगेरी, एसीपी चिकपेट और एसीपी क्राइम के नेतृत्व में पुलिस की तीन टीम बनाई गई है,यह इनकी जांच करेंगे।

 


सीसीटीवी मे दिखे सबूत
सीसीटीवी फुटेज के जरिए गौरी के संदिग्ध हत्यारे को साफ देखा जा रहा है। पांच सेकेंड का वीडियो है जिसमें पूरी वारदात साफ दिख रही है कि एक शख्स जिसने सिर पर हेलमेट और काले रंग की जैकेट पहनी हुई है, और शख्स गौरी लंकेश की तरफ फायरिंग कर रहा है। वह गौरी से करीब 10 फिट की दूरी पर बाइक पर बैठे हुए गोली चला रहा है। सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा था कि दो बाइक पर तीन लोग सवार थे। फोरेंसिक एक्सपर्ट के मुताबिक 32MM पिस्तौल से वारदात को अंजाम दिया गया है।