आतंकवाद के मुद्दे को लेकर पाक ने मानी अपनी गलती,क्या पाक बदलेगा अपनी चाल?

  • आतंकवाद के मुद्दे को लेकर पाक ने मानी अपनी गलती,क्या पाक बदलेगा अपनी चाल?

खबर_संवाददाता - Shaini

On 0000-00-00 00:00:00 2789

आतंकवाद को पनाह देने वाले देश पाकिस्तान ने आखिरकार अपनी गलती मान ली है। पाक के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने आतंकवाद को लेकर पाक को बेनकाब किया है। विदेश मंत्री ने पाक की गलतिया कबूली है कहा कि पाक ने अतीत में तमाम गलतियां की थीं, लेकिन अब सेना और राजनीतिक नेतृत्व दोनों साफ सुथरे रास्ते को अपनाना चाहते है।

 

विदेश मंत्री ने कबूली बात
पाकिस्तानी न्यूज चैनल मे दिए एक इंटरव्यू के दौरान ख्वाजा आसिफ से पूछा गया कि ब्रिक्स सम्मेलन में एक घोषणा पत्र जारी किया था जिसमे कहा गया है पाकिस्तान आंतकवादियो का पनागाह इसके जवाब में उन्होने कहा, पाकिस्तान ने अतीत में कुछ गलतियां की हैं। लेकिन अब पाकिस्तानी सेना और राजनीतिक नेतृत्व दोनों को यह एहसास हो गया है कि पाकिस्तान को अपने गलतियों भरे अतीत से पीछा छुड़ाकर साफ-सुथरे रास्ते को अपनाना होगा।

ख्वाजा ने कहा, हमें अपने दोस्तों को यह बताना होगा कि अब हम सुधर गए हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शर्मिंदगी से बचने के लिए और हलात बेहतर करने के लिए पहले हमें अपने घर की हालत ठीक करनी होगी। उन्होंने कहा, अगर लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकवादी संगठनों को रोका नही गया तो यह पाक के उपर कलंक लगाता रहेगा। पाकिस्तान को स्थिती बेहतर करनी होगी क्योंकि पूरी दुनिया पाकिस्तान पर निशान साध रहा है।

ख्वाजा आसिफ ने आगे कहा, पाकिस्तान की सेना ने अपने काम निभाया, लेकिन क्या हमने अपना काम पूरा किया? आसिफ ने कहा कि दुनिया को इस बात पर विश्वास गिलाना होगा की पाक की धरती पर आतंकवाद की कोई जगाह नहीं है।

 

BRICS घोषणापत्र में लिए आतंकी संगठनों का नाम

BRICS शिखर सम्मेलन के जारी घोषणापत्र में पाकिस्तान पर लगे आतंकवाद के आरोप के बाद असर दिखाना शुरू कर दिया है। हाल ही में खत्म हुए ब्रिक्स सम्मेलन के घोषणापत्र में तालिबान, आईएसआईएस, अल-कायदा और लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हक्कानी नेटवर्क के साथ सहयोगी संगठनों की तरफ से की जाने वाली हिंसा पर चिंता जाहिर की थी।

जिसके बाद यह पहली बार हुआ है कि पाकिस्तान के किसी विदेश मंत्री ने इस मामले में अपने देश की गलती स्वीकार की है।