देश की अर्थव्यवस्था गिर रही है, नेताओं की जेबे भर रही है

  • देश की अर्थव्यवस्था गिर रही है, नेताओं की जेबे भर रही है

खबर_संवाददाता - Deepak

On 0000-00-00 00:00:00 2825

 

देश की अर्थव्यवस्था आज पिछले 3 सालो में सबसे ज्यादा गिरी हुई है लोगो के पास नौकरियां तक नहीं है। और जिनके पास बेरोजगार हो रहे है। लेकिन इस देश के ही कुछ लोग यानि जनता द्वारा चुने गए कुछ लोगों की आये दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। और ऐसा हम नहीं कह रहे हैं ये सुप्रीम केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार किया है। रिपोर्ट में कहा गया है दो चुनाओं के बीच नेताओं की संपत्ति में हद से ज्यादा बढ़ोतरी आयी है।


IT डिपार्टमेंट ने जांच की

CBDT ने अपने द्वारा दर्ज की गयी हलफनामे में आरोप लगाते हुए कहा की मौजूदा समय में लोकसभा के 26 सांसद , राज्य सभा के 11 सांसद और 257 विधायकों की संपत्ति में हद से ज्यादा की बढ़ोतरी पायी गयी है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट में अपनी बात रखते हुए बात CBDT ने कहा है कि IT डिपार्टमेंट कि जांच की तो पाया कि 26 लोकसभा सांसदों में से 7 लोक सभा सांसदों की संपत्ति में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। जबकि यही हाल 257 विधायकों में से 98 विधायकों की है। मामले की सुनवाई के दौरान CBDT उन सांसदों और विधायकों के नामों की रिपोर्ट सीलकवर में दे गई, जिनकी संपत्ति में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। तो आखिर सवाल उठना लाजिम ही आखिर कैसे जनता बेरोजगार हो रही है और जानत के सेवक कहे जाने वालों की जेब भरा जा रहा है।

 

मंदी के करीब भारत

आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघु रामराजन ने अपनी नयी इंटरव्यू में साफ़ कर दिया है की भारत अपनेअर्थव्यवथा के सबसे बूरे दौरों से गुजर रहा है एक अकड़ा देते हुए राजन ने यहाँ तक खुलासा कर डाला की भारत मंदी की तरफ भढ़ता जा रहा है। लेकिन हमारे देश के नेताओं के पास जादू की छड़ी है।जिससे उनकी तिजोरी भड़ती जा रही है। तो हम नेताओं से कहना चाहते है की उसे उन्हें सरकार को दे देना चाहिए जिससे भारत की अर्थव्यवस्था भी मजबूत हो और हर साल 2 करोड़ नौकरी भी देने का वादा पूरा हो जाए। और इसके इस्तेमाल काले धन को भी वापस लाने में करना चाहिए जिससे भारत में हर किसी के खाते में 15 -15 लाख रुपये आ जाये।


अमित शाह की संपत्ति में इजाफा

पिछले 5 सालों में अमित शाह की भी संपत्ति 300 गुना बढ़ गयी है। यानि शाह ने जब 2012 के गुजरात विधानसभा चुनाव में उन्होंने जो हलफनामा दाखिल किया था और 2017 में राज्यसभा के लिए जो हलफनामा दाखिल किया है, उसके मुताबिक उनकी संपत्ति में 300 प्रतिशत का इज़ाफा हुआ है।

 

Related News Video