मिट्टी के बने इस तवे की खाएं रोटी, इन बिमारियों से मिल जाएगा हमेशा के लिए छुटाकारा

  • मिट्टी के बने इस तवे की खाएं रोटी, इन बिमारियों से मिल जाएगा हमेशा के लिए छुटाकारा

खबर_संवाददाता - Preeti

On 2018-04-07 16:37:31 2524

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी और बदलती जीवनशैली के बीच हम अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पाते हैं ऐसे में हम कई बिमारियों से ग्रस्त हो जाते हैं। वहीं आज की आधुनिक जीवनशैली में हम अलग-अलग तरह के डिजाईनर बर्तनों का इस्तेमाल करने लगें हैं।

 

आपने पुराने लोगों को अक्सर कहते सुना होगा कि मिट्टी के बर्तन में खाना खाने से शरीर स्वस्थ बना रहता है, कई तरह के फायदे मिलते हैं। लेकिन आज के आधुनिक में मिट्टी के बर्तन धीरे-धीरे चलन से बाहर हो गए। पर अगर आपने ध्यान दिया होगा तो पिछले कुछ सालों से मिट्टी का तवा मेट्रो सिटीज के साथ ही छोटे शहरी घरों में भी देखने को मिल रहा है।

आयुर्वेद में कहा गया है कि खाने को आग के ऊपर धीरे-धीरे पकना चाहिए। लेकिन स्टील और एल्युमिनियम के बर्तन में यह संभव नहीं हो पाता। इनमें खाना तेजी से पकता है। जबकि मिट्टी के बर्तन में खाना हल्की आंच पर बनाया जाता है। इससे खाना स्वादिष्ट और पौष्टिक बनता है।

 

आइये आपको बताते हैं मिट्टी के तवे पर बनी रोटी या मुट्टी के बर्तन में बना खाना आपको किन-किन बिमारियों से दूर रखता है...

    मिट्टी के बने इस तवे की खाएं रोटी, इन बिमारियों से मिल जाएगा हमेशा के लिए छुटाकारा

गैस से राहत

मिट्टी के तवे पर बनी रोटी खाने से गैस की समस्या छूमंतर हो जाती है। यदि आपको भी दिनभर ऑफिस में बैठने के कारण गैस की परेशानी है तो मिट्टी के तवे बनी रोटी आप भी आजमा सकते हैं।

 

स्वादिष्ट और पौष्टिक

मिट्टी के तवे पर बनी रोटी स्वादिष्ट और पौष्टिक होती है। आटा मिट्टी के तत्वों को अवशोषित कर लेता है, जिससे इसकी पौष्टिकता बढ़ जाती है। साथ ही इसमें मौजूद सभी तरह के प्रोटीन शरीर की खतरनाक बीमारियों से रक्षा करता है।

 

कब्ज से राहत

आजकल की बदलती जीवनशैली के बीच कब्ज की समस्या आम हो गई है। जिस व्यक्ति को कब्ज की परेशानी हो उसे तवा पर बनी रोटी खाने से आराम मिलता है। कुछ समय तक लगातार ऐसा करने से कब्ज में राहत मिलती है।

इस बात का ख्याल रखें

मिट्टी के तवे को तेज आंच पर रखने से यह चटक जाता है। इसके अलावा मिट्टी के तवे का इस्तेमाल करते वक्त यह भी ध्यान रखें कि इसे पानी के संपर्क में नहीं लाना चाहिए। रोटी बनाने के बाद मिट्टी के तवे को कपड़े से साफ करें। इस पर साबुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। मिट्टी का तवा साबुन अवशोषित कर लेता है।