एक अक्टूबर से बैंक के नियम में आए बदलाव

  •  एक अक्टूबर से बैंक के नियम में आए बदलाव

खबर_संवाददाता - Shaini

On 2017-10-01 10:16:32 2826

त्यौहार की वजह से बैंक कुछ दिनो तक बंद होंगे इसी दौरान देश में पांच बड़े नियमों में बदलाव किया जा रहा है। एसबीआई के खाताधारकों को अकाउंट में मिनिमम बैलेंस रखने के मामले मे अब खाताधारक को थोड़ी राहत मिल सकती है। तो वहीं आज से देश के सारे नेशनल हाईवे पर इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन की शुरूआत हो जाएगी।

 

नए नियम में क्या बदलाव?

एसबीआई ने मिनिमम बैलेंस लिमिट घटाई
एसबीआई ने अपनी लागू की गई लिमीट को घटा दिया जिसके चलते यह यूजर के लिए खुश खबरी होगी। SBI ने मेट्रो शहरों में मिनिमम बैलेंस लिमिट 5,000 रुपये से घटाकर 3,000 रुपये कर दी है। यानी की अब लोगो को बेवजह के चार्जेस से छुटकारा मिल सकता है। इससे करीब पांच करोड़ खाताधारकों को फायदा होगा। पहले मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर जुर्माने के रूप में 40 से 100 रुपये तक वसूले जाते थे और उस पर सर्विस टैक्स भी लगाया जाता था लेकिन अब उसे घटा दिया है और 30 से 50 रुपये कर दिया है।

वही छोटे शहरों और ग्रामीण इलाकों में मिनिमम बैलेंस मेनटेन नहीं करने पर 25 से 75 रुपये कटता था, जिसे घटाकर 20 से 40 रुपये कर दिया गया है।

इस चार्जेस को लेकर लगातार विरोध चल रहा है, सरकार की अपील के बाद SBI ने ये कदम उठाया है। इसका असर एसबीआई के 5 करोड़ खाताधारकों पर पड़ेगा। SBI ने पेंशन खाता धारकों, सरकार की सामाजिक योजनाओं के लाभार्थियों और नाबालिगों के खातों को मिनिमम एवरेज बैलेंस की जरूरत से बाहर रखने का भी फैसला किया है।

 

पुराना खाता बंद करवाने का नियम
एक और नया नियम लागु हुआ जिससे अब कोई यूजर को कोई परेशानी नही आएगी। एसबीआई में अकाउंट बंद करवाने पर कोई फी नहीं लगेगी, भले ही खाता एक साल पुराना हो। अगर कोई खाता खोलने के 14 दिन बाद और एक साल से पहले अकाउंट बंद करवाता है तो उसे 500 रुपये और GST देना होगा।

 

पुराने चेक मान्य नहीं होंगे
जिन लोगों के पास एसबीआई में मर्ज हो चुके बैंकों की चेकबुक हैं। इन बैंकों की पुरानी चेक बुक और IFSC कोड 30 सितंबर के बाद मान्य नहीं होंगे।

नेशनल हाईवे के सभी लेन पर इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन
नेशनल हाईवे के सभी लेन पर इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन की शुरुआत हो जाएगी। यानी अगर आपने अपनी गाड़ी पर आरएफआईडी टैग लगाया है..तो आपको टोल पर रूकने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

कॉल रेट सस्ता होने की भी उम्मीद
नअ नियम मे कॉल रेट भी शामिल है ,कॉल रेट सस्ता होने की भी उम्मीद बताई जा रही है। क्योंकि ट्राई ने पिछले दिनों जो इंटरकनेक्शन चार्ज घटाया था वो अब लागू हो रहा है। इंटरकनेक्शन चार्ज 14 पैसे प्रति मिनट से घटकर 6 पैसे प्रति मिनट हो जाएगा।